चन्द्रग्रहण – क्या करें, क्या ना करें | Chandragrahan kya kare, kya na kare

Home » Blog » Adhyatma Vigyan » चन्द्रग्रहण – क्या करें, क्या ना करें | Chandragrahan kya kare, kya na kare

चन्द्रग्रहण – क्या करें, क्या ना करें | Chandragrahan kya kare, kya na kare

चंद्रग्रहण : Chandragrahan

Chandragrahan kya kare, kya na kare यह सवाल हमेशा में यही सवाल सामने आता है की हम ग्रहण में क्या करे ओर क्या आना करे तो आज हम आपको इसी बारे में जानकारी देते है की आपको चन्द्रग्रहण में क्या करना चाहिए ओर क्या नहीं :

चंद्रग्रहण हो या सूर्यग्रहण एक सवाल हमेशा सामने आता है कि ग्रहण के दिन क्या करें क्या न करें। तो इस बारे में आपको सलाह दीजाती है कि चंद्र ग्रहण मे तीन प्रहर पूर्व भोजन नहीं करना चाहिये । बूढे बालक और रोगी एक प्रहर पूर्व तक खा सकते हैं ग्रहण पूरा होने पर चंद्र, जिसका ग्रहण हो, उसका शुध्द बिम्ब देख कर भोजन करना चाहिये । (१ प्रहर = ३ घंटे)

• गर्भवती स्त्रियोँ को ग्रहण में घर के अंदर ही रहने की सलाह दी जाती है दरअसल माना जाता है कि ग्रहण के दौरान वातावरण में नकारात्मक ऊर्जा का संचार हो रहा होता है इसलिये घर में रहकर मंत्रोंच्चारण करें। इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा फैलती है और नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है।

• कोइ भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिये और नया कार्य शुरु नहीं करना चाहिये ।

• अपने मन में दुर्विचारों को न पनपने दें। इस दिन ब्रह्मचर्य का पालन करें और अपने आराध्य देव का ध्यान लगायें।

• जिन जातकों की कुंडली में शनि की साढ़े साती या ढईया का प्रभाव चल रहा है, वे शनि मंत्र का जाप करें एवं हनुमान चालीसा का पाठ भी अवश्य करें।

• जिन जातकों की कुंडली में मांगलिक दोष है, वे इसके निवारण के लिये चंद्रग्रहण के दिन सुंदरकांड का पाठ करें तो इसके सकारात्मक परिणाम मिलेंगें।

• आटा, चावल, चीनी, श्वेत वस्त्र, साबुत उड़द की दाल, सतनज, काला तिल, काला वस्त्र आदि किसी गरीब जरुरतमंद को दान करें।

• ग्रहों का अशुभ फल समाप्त करने और विशेष मंत्र सिद्धि के लिये इस दिन नवग्रह, गायत्री एवं महामृत्युंजय आदि शुभ मंत्रों का जाप करें। दुर्गा चालीसा, विष्णु सहस्त्रनाम, श्रीमदभागवत गीता, गजेंद्र मोक्ष आदि का पाठ भी कर सकते हैं।

• चंद्र ग्रहण हो तो सुख-समृद्धि के लिए एक माला नीचे दिये मंत्र की जरुर करें :-

मंत्र – ॐ ऐं क्लीं सोमाय नम: |

2017-08-07T10:53:18+00:00 By |Adhyatma Vigyan, kya kare kya na kare|0 Comments

Leave A Comment

nineteen − 1 =