पूज्य बापू जी का संदेश

ऋषि प्रसाद सेवा करने वाले कर्मयोगियों के नाम पूज्य बापू जी का संदेशधन्या माता पिता धन्यो गोत्रं धन्यं कुलोद्भवः। धन्या च वसुधा देवि यत्र स्याद् गुरुभक्तता।।हे पार्वती ! जिसके अंदर गुरुभक्ति हो उसकी माता धन्य है, उसका पिता धन्य है, उसका वंश धन्य है, उसके वंश में जन्म लेने वाले धन्य हैं, समग्र धरती माता धन्य है।""ऋषि प्रसाद एवं ऋषि दर्शन की सेवा गुरुसेवा, समाजसेवा, राष्ट्रसेवा, संस्कृति सेवा, विश्वसेवा, अपनी और अपने कुल की भी सेवा है।"पूज्य बापू जी

यह अपने-आपमें बड़ी भारी सेवा है

जो गुरु की सेवा करता है वह वास्तव में अपनी ही सेवा करता है। ऋषि प्रसाद की सेवा ने भाग्य बदल दिया

देशी गाय व भैंस के दूध के 6 बड़े अंतर |Buffalo Milk vs Cow Milk – Difference and Comparison

Home » Blog » Ahar-vihar » देशी गाय व भैंस के दूध के 6 बड़े अंतर |Buffalo Milk vs Cow Milk – Difference and Comparison

देशी गाय व भैंस के दूध के 6 बड़े अंतर |Buffalo Milk vs Cow Milk – Difference and Comparison

देशी गाय का दूध

  • १ ]  सुपाच्य होता है |

  • २] इसमें स्वर्ण-क्षार होते है |

  • ३] बुद्धि को कुशाग्र बनाता हैं |

  • ४] स्मरणशक्ति बढाता है एवं स्फूर्ति प्रदान करता है |

  • ५] यह सत्त्वगुण बढ़ता है |

  • ६] गाय अपना बछड़ा देखकर स्नेह व वात्सल्य से भर के दूध देती है |

भैंस का दूध

  • १] पचने में भारी होता है |

  • २] इसमें स्वर्ण-क्षार नहीं होते हैं |

  • ३] बुद्धि को मंद करता है |

  • ४] यह आलस्य व अत्यधिक नींद लाता हैं |

  • ५] यह तमोगुण बढ़ाता हैं |

  • ६] भैंस स्वाद व खुराक देखकर दूध देती है | भैंस का दूध पी के बड़े होनेवाले भाई सम्पदा के लिए लड़ते-मरते हैं |

देशी गाय के दूध(Gaye ke dudh) में सम्पूर्ण प्रोटीन्स रहने के कारण यह मनुष्यों के लिए अनिवार्य हैं | भैंस के दूध की अपेक्षा गाय के दूध में रहनेवाले प्रोटीन्स सुगमता से पचते हैं | गाय के दूध में ऑक्सिडेज तथा रिडक्टेज एंजाइम की प्रचुरता रहती है, जो पाचन में सहायता देने के अतिरिक्त दूध पीनेवालों के शरीर में पाये जानेवाले टोक्सिंस (विषैले पदार्थ) को दूर करते हैं |

इसे भी पढ़े :  क्‍या आपको पता है कि गायों के दूध में BCM7 क्‍या होता है |

देशी गाय के दूध की और भी अनेक विशेषताएँ हैं | ऊपर दिये गये बिन्दुओं से देशी गाय के दूध की श्रेष्ठता स्पष्ट हो जाती है | देशी गाय का दूध पीकर हम आयु, बुद्धिमत्ता, सात्त्विकता, निरोगता आदि बढायें या भैंस का दूध पी के इन्हें घटायें – यह हमारे हाथ की बात है |

भैंस के दूध से भी अधिक हानिकारक हैं जर्सी आदि विदेशी संकरित गायों का दूध |

इसे भी पढ़े :  गौमाता को कैसे और क्यों करें प्रसन्न ?

स्त्रोत- ऋषिप्रसाद

keywords – buffalo milk fat percentage ,buffalo milk composition table ,difference between cow ghee and buffa ,,cowmilk vs buffalo milk for babiesside effects of buffalo milk ,cow milk vs buffalo milk ayurveda ,buffalo wiki ,buffalo milk benefits ,buffalo milk benefits ,cow milk benefits skin ,cow milk benefits and disadvantages ,cow milk benefits in hindi ,cow milk benefits and side effects ,benefits of cow milk during pregnancy,benefits of drinking milk everyday ,गाय का कच्चा दूध ,गाय के घी के फायदे ,भैंस के दूध के फायदे ,दूध पीने का समय,गाय का दूध पीला क्यों होता है ,भैंस के दूध के नुकसान ,मलाई खाने के फायदे ,देशी गाय का दूध ,Gaye ke dudh ke fayde ,

 

2017-06-24T13:06:59+00:00 By |Ahar-vihar, Articles|0 Comments

Leave a Reply