पूज्य बापू जी का संदेश

ऋषि प्रसाद सेवा करने वाले कर्मयोगियों के नाम पूज्य बापू जी का संदेशधन्या माता पिता धन्यो गोत्रं धन्यं कुलोद्भवः। धन्या च वसुधा देवि यत्र स्याद् गुरुभक्तता।।हे पार्वती ! जिसके अंदर गुरुभक्ति हो उसकी माता धन्य है, उसका पिता धन्य है, उसका वंश धन्य है, उसके वंश में जन्म लेने वाले धन्य हैं, समग्र धरती माता धन्य है।""ऋषि प्रसाद एवं ऋषि दर्शन की सेवा गुरुसेवा, समाजसेवा, राष्ट्रसेवा, संस्कृति सेवा, विश्वसेवा, अपनी और अपने कुल की भी सेवा है।"पूज्य बापू जी

यह अपने-आपमें बड़ी भारी सेवा है

जो गुरु की सेवा करता है वह वास्तव में अपनी ही सेवा करता है। ऋषि प्रसाद की सेवा ने भाग्य बदल दिया

मानसिक अशांति को चुटकियों में दूर करता है यह चमत्कारिक मंत्र

Home » Blog » Mantra Vigyan » मानसिक अशांति को चुटकियों में दूर करता है यह चमत्कारिक मंत्र

मानसिक अशांति को चुटकियों में दूर करता है यह चमत्कारिक मंत्र

★ अहंकार, चिंता और व्यर्थ का चिंतन साधक की शक्ति को निगल जाते हैं |
★ इनको मिटाने के लिए एक सुंदर मंत्र योगी गोरखनाथजी ने बताया है |
★ इसमें कोई विधि – विधान नहीं है |
★ रात को सोते समय इस मंत्र का जप करो, संख्या का कोई आग्रह नहीं है |
★ इस मंत्र से आपके चित्त की चिंता, तनाव, खिंचाव, दिक्कतें जल्दी शांत हो जायेगी और साधन – भजन में बरकत आयेगी |
★ मंत्र उच्चारण में थोडा कठिन जैसा लगेगा लेकिन याद रह जाने पर आसान हो जायेगा |
★ बाहर के रोग तो बाहर की औषधि से मिट सकते हैं लेकिन भीतर के रोग बाहर की औषधि से नहीं मिटेंगे और इस मंत्र से टिकेंगे नहीं |

इसे भी पढ़े : ध्यान में आनेवाली बाधाओं को नस्ट कर देगा यह चमत्कारिक मन्त्र |

हमारी जो जीवनधारा है, जीवनीशक्ति है, चित्तशक्ति है उसीको उद्देश्य करके यह मंत्र है :

ॐ चित्तात्मिकां महाचित्तिं
चित्तस्वरूपिणीं आराधयामि
चित्तजान रोगान शमय शमय
ठं ठं ठं स्वाहा ठं ठं ठं स्वाहा |

‘हे चित्तात्मिका, महाचित्ति, चित्तस्वरूपिणी ! मैं तेरी आराधना करता हूँ | जगत – शक्तिदात्री भगवती ! मेरे चित्त के रोगों का तू शमन कर |’

‘ठं’ बीजमंत्र है, यह बड़ा प्रभाव करता है | किसीमें लोभ, किसीमें मोह, किसीमें शराब पीने का, किसीमें अहंकार का, किसीमें शेखी बधारने का दोष होता है | चित्त में दोष भरे है इसलिए तो चिंता, भय, क्रोध, अशांति है और जन्म – मरण होता है |

★ इसके जप से आद्यशक्ति चेतना चित्त के दोषों को दूर कर देती है,
★ चित्त को निर्मल कर देती है |
★ सीधे लेट गये, यह जप किया |
★ जब तक निद्रा न आये तब तक इसका प्रयोग करें |
★ निद्रा आने पर अपने – आप ही छूट जायेगा |
★ रात को जप करके सोने से सुबह तुम स्वस्थ, निर्भय, प्रसन्न होकर उठोगे |

भगवान के मंत्र हों और भगवान को अपना मानकर प्रीतिपूर्वक जप करें तो चित्त भगवदाकार होकर भगवदरस से पावन हो जाता है | भगवदरस के बिना नीरसता नहीं जाती |

स्रोत – ऋषि प्रसाद –जुलाई २०१६ से

विशेष : यह मंत्र सारस्वत कुंडलिनी महायोग शक्तिपात शास्त्र (Saraswat Kundalini Mahayoga Shaktipatha Shastra) से लिया गया है | इस ग्रन्थ को आप यहाँ से मुफ्त डाउनलोड कर सकते है – DOWNLOAD

अन्य उपयोगी ग्रंथों को आपन यहाँ से मुफ्त में डाउनलोड कर सकते है – Download free eBooks

keywords – power mantra for success ,mantras that work instantly ,power of mantras proven scientifically ,power of mantra om namah shivaya ,list of mantras ,does listening to mantras work ,how mantra works scientifically ,how to get siddhi in any mantra,mansik shanti ke liye mantra ,मानसिक तनाव से मुक्ति पाने के उपाय , मानसिक तनाव से मुक्ति के उपाय ,मानसिक शांति के उपाय ,मानसिक तनाव दूर करने के उपाय , मानसिक तनाव से मुक्ति का अचूक मंत्र ,मानसिक तनाव के लक्षण ,मानसिक तनाव के कारण ,चिंता से चतुराई घटे ,मंत्र संग्रह ,मंत्र तंत्र सिद्धि ,मंत्र जप के नियम ,मंत्र रहस्य ,मंत्र सागर ,मंत्र साधना , स्वयं सिद्ध शाबर मंत्र ,हनुमान जी का शाबर मंत्र ,शाबर मंत्र संग्रह ,शिव शाबर मंत्र,शाबर मन्त्र का अद्भुत चमत्कार ,शाबर वशीकरण मंत्र ,शक्तिशाली सिद्ध शाबर मंत्र ,बर्भर साबर मंत्र ,shabar mantra ,sidh shabar mantra ,shabar mantra hanuman ji ,shabar mantra in hindi free download ,gorakhnath shabar mantra ,shabar mantra vashikaran ,shabar mantra for success ,shabar mantra siddhi ,shabar mantra for money
2017-06-17T16:24:32+00:00 By |Mantra Vigyan|0 Comments

Leave a Reply