पूज्य बापू जी का संदेश

ऋषि प्रसाद सेवा करने वाले कर्मयोगियों के नाम पूज्य बापू जी का संदेश धन्या माता पिता धन्यो गोत्रं धन्यं कुलोद्भवः। धन्या च वसुधा देवि यत्र स्याद् गुरुभक्तता।। हे पार्वती ! जिसके अंदर गुरुभक्ति हो उसकी माता धन्य है, उसका पिता धन्य है, उसका वंश धन्य है, उसके वंश में जन्म लेने वाले धन्य हैं, समग्र धरती माता धन्य है।" "ऋषि प्रसाद एवं ऋषि दर्शन की सेवा गुरुसेवा, समाजसेवा, राष्ट्रसेवा, संस्कृति सेवा, विश्वसेवा, अपनी और अपने कुल की भी सेवा है।" पूज्य बापू जी

यह अपने-आपमें बड़ी भारी सेवा है

जो गुरु की सेवा करता है वह वास्तव में अपनी ही सेवा करता है। ऋषि प्रसाद की सेवा ने भाग्य बदल दिया

Ark

Home » Ark
Ark 2017-02-04T08:31:39+00:00
2017-02-21T17:42:10+00:00

अच्युताय हरिओम तुलसी अर्क (Achyutaya Hariom Tulsi Ark)

,

यह सर्दी -जुकाम खांसी ,एसिडिटी ज्वर ,दस्त ,वमन,हिचकी ,मुख की दुर्गन्ध ,मन्दाग्नि ,पेचिस में लाभ दायी व हृदय के लिए हितकर है ,यह रक्त में से अतिरिक्त स्निग्धांश को हटाकर रक्त को शुद्ध करता है।यह [...]

2017-04-30T21:51:09+00:00

अच्युताय हरिओम पुदीना अर्क (Achyutaya Hariom Pudina Ark)

,

पेट के समस्त रोग,कृमि,बालकों के रोग,जीमचलना(घबराहट),अरूचि,मंदाग्नि,आफरा,अजीर्ण,अतिसार,प्रवाहिका,संग्रहणी,उल्टी दस्त,पेचिस,पांडु,श्वास-खांसी,कफ-वात रोग आदि में उपयोगी तथा मुख दुर्गंधनाशक ,पाचक,पीडानाशक एवं रक्तवर्धक बहुगुणकारी औषधि है ।

2017-01-04T14:08:07+00:00

अच्युताय हरिओम नीम अर्क(Achyutaya Hariom Neem Ark)

,

(रक्त शुद्धिकर ,पित्तशामक) दाद, खाज, खुजली, कील - मुँहासे, रक्तप्रदर, गर्भाशय के रोग, पुराने त्वचा विकारों व आँखों के सर्व विकारों मे गुणकारी ।  दाह व पित्तशामक, पीलिया, पांडुरोग, रक्तपित्त, उलटी व यकृत के [...]

2017-01-04T11:11:01+00:00

अच्युताय हरिओम गोझरण अर्क(Achyutaya Hariom Gaujaran Ark)

,

कफ  के  रोग (जैसे सर्दी खांसी आदि)वायु के रोग ,पेट के रोग ,गैस ,अग्निमान्ध, गठिया ,घुटने का दर्द,पीलिया लीवर के  रोग,प्लीहा के रोग ,बहुमूत्रता,शोथ ,जोड़ों का दर्द ,बच्चों के रोग ,कान के रोग ,सर [...]

2017-01-04T09:19:41+00:00

अच्युताय हरिओम अडूसी अर्क(Achyutaya Hariom Ardusi Ark)

,

क्षय(टी.बी.),नकसीर व रक्तपित्त,श्वास,कफ और खांसी की बीमारी में लाभकारी । (1)Product Name :- Ardusi Ark (2)Quantity :- 210 ml. (3)Direction For Use :-  5 to 15 ml. once or  twice a day on     empty [...]