पूज्य बापू जी का संदेश

ऋषि प्रसाद सेवा करने वाले कर्मयोगियों के नाम पूज्य बापू जी का संदेशधन्या माता पिता धन्यो गोत्रं धन्यं कुलोद्भवः। धन्या च वसुधा देवि यत्र स्याद् गुरुभक्तता।।हे पार्वती ! जिसके अंदर गुरुभक्ति हो उसकी माता धन्य है, उसका पिता धन्य है, उसका वंश धन्य है, उसके वंश में जन्म लेने वाले धन्य हैं, समग्र धरती माता धन्य है।""ऋषि प्रसाद एवं ऋषि दर्शन की सेवा गुरुसेवा, समाजसेवा, राष्ट्रसेवा, संस्कृति सेवा, विश्वसेवा, अपनी और अपने कुल की भी सेवा है।"पूज्य बापू जी

यह अपने-आपमें बड़ी भारी सेवा है

जो गुरु की सेवा करता है वह वास्तव में अपनी ही सेवा करता है। ऋषि प्रसाद की सेवा ने भाग्य बदल दिया

प्रसव पीड़ा (LABOUR PAIN)

Home » Blog » Disease diagnostics » प्रसव पीड़ा (LABOUR PAIN)

प्रसव पीड़ा निवारक शास्त्रों के वरदायनी प्रयोग | Prasav pida dur karne ke upay

2017-07-14T19:49:26+00:00 By |Disease diagnostics, Mantra Vigyan, प्रसव पीड़ा (LABOUR PAIN)|

प्रसव में बिलम्ब या प्रसव पीड़ा(prasav pida)प्रसव पीड़ा(prasav pida / labor pain /लेबर पेन  ) कम या दूर करने के [...]

प्रसव पीड़ा को दूर करते है यह असरकारक 38 घरेलु उपाय | Natural pain relief in labour

2017-07-14T19:52:10+00:00 By |Disease diagnostics, प्रसव पीड़ा (LABOUR PAIN)|

आइये जाने प्रसव पीड़ा(Prasav ka dard /labor pain /लेबर पेन ) को दूर के लिए आयुर्वेदिक घरेलु उपाय [...]