पूज्य बापू जी का संदेश

ऋषि प्रसाद सेवा करने वाले कर्मयोगियों के नाम पूज्य बापू जी का संदेशधन्या माता पिता धन्यो गोत्रं धन्यं कुलोद्भवः। धन्या च वसुधा देवि यत्र स्याद् गुरुभक्तता।।हे पार्वती ! जिसके अंदर गुरुभक्ति हो उसकी माता धन्य है, उसका पिता धन्य है, उसका वंश धन्य है, उसके वंश में जन्म लेने वाले धन्य हैं, समग्र धरती माता धन्य है।""ऋषि प्रसाद एवं ऋषि दर्शन की सेवा गुरुसेवा, समाजसेवा, राष्ट्रसेवा, संस्कृति सेवा, विश्वसेवा, अपनी और अपने कुल की भी सेवा है।"पूज्य बापू जी

यह अपने-आपमें बड़ी भारी सेवा है

जो गुरु की सेवा करता है वह वास्तव में अपनी ही सेवा करता है। ऋषि प्रसाद की सेवा ने भाग्य बदल दिया

लकवा (पक्षाघात)(Paralysis)

Home » Blog » Disease diagnostics » लकवा (पक्षाघात)(Paralysis)

लकवा के 37 सबसे असरकारक आयुर्वेदिक प्राकृतिक घरेलु उपचार | lakwa ka upchar

2017-09-23T09:47:17+00:00 By |Disease diagnostics, लकवा (पक्षाघात)(Paralysis)|

लकवा का कारण ,प्रकार व उपचार :lakwa ka Ayurvedic Gharelu ilaj in hindi पक्षाघात या लकवा मारना (Paralysis): मस्तिष्क [...]

लकवा(पैरालिसिस)को ठीक करेंगे यह 16 अचूक घरेलु उपचार | Ayurvedic Cure for Paralysis

2017-04-12T13:46:39+00:00 By |Disease diagnostics, लकवा (पक्षाघात)(Paralysis)|

पहचान :- लकवा को पैरालिसिस अटैक या स्ट्रोक भी कहते है जिसकी वजह से व्यक्ति चलने फिरने और लकवा ग्रस्त [...]