पूज्य बापू जी का संदेश

ऋषि प्रसाद सेवा करने वाले कर्मयोगियों के नाम पूज्य बापू जी का संदेशधन्या माता पिता धन्यो गोत्रं धन्यं कुलोद्भवः। धन्या च वसुधा देवि यत्र स्याद् गुरुभक्तता।।हे पार्वती ! जिसके अंदर गुरुभक्ति हो उसकी माता धन्य है, उसका पिता धन्य है, उसका वंश धन्य है, उसके वंश में जन्म लेने वाले धन्य हैं, समग्र धरती माता धन्य है।""ऋषि प्रसाद एवं ऋषि दर्शन की सेवा गुरुसेवा, समाजसेवा, राष्ट्रसेवा, संस्कृति सेवा, विश्वसेवा, अपनी और अपने कुल की भी सेवा है।"पूज्य बापू जी

यह अपने-आपमें बड़ी भारी सेवा है

जो गुरु की सेवा करता है वह वास्तव में अपनी ही सेवा करता है। ऋषि प्रसाद की सेवा ने भाग्य बदल दिया

श्वास-दमा(Asthama)

Home » Blog » Disease diagnostics » श्वास-दमा(Asthama)

अस्थमा–दमा-श्वास के 170 आयुर्वेदिक घरेलु उपचार Saans/ Asthma / Dama ka Ayurvedic upchar

2017-08-05T11:48:24+00:00 By |Disease diagnostics, श्वास-दमा(Asthama)|

अस्थमा–दमा-श्वास का रामबाण उपचार : dama ka desi upchar in hindi Saans Ki Bimari Ka Desi Ilaj In Hindi.अस्थमा [...]

दमा या अस्थमा के कारगर 15 घरेलु उपाय | Best Home Remedies for Asthma

2017-08-05T09:14:48+00:00 By |Disease diagnostics, श्वास-दमा(Asthama)|

Saans/ Asthma / Dama ka ayurvedic upchar कारण:- दमा (dama / Asthma / Saans) आज के प्रदूषण भरे वातावरण [...]