खाली पेट नहीं पीये चाय :

हमारे देश में अमूमन सभी के दिन की शुरुआत चाहे बूढे हो या जवान, चाय पीने से ही होती है। सुबह की चाय सभी के जीवन का एक हिस्सा बन गयी है जिसके न मिलने पर ऐसा लगता कि मानो आज दिन शुरू होगा ही नहीं। देश की करीब 80 से 90 फीसदी जनसंख्या सुबह उठने के साथ ही चाय पीना पसंद करती है। शहरों में तो इसे बेड टी कल्चर का ही नाम दे दिया गया है। बेड टी का कल्चर न केवल शहरों में प्रचलित है बल्कि गांव देहात में भी लोग सुबह की शुरुआत चाय से करना पसंद करते हैं। पर आपको क्या लगता है, क्या ये एक अच्छी और हेल्दी आदत है? कुछ समय से लगातर हो रहे शोध से यह साबित हो रहा है की सुबह में खाली पेट चाय लेने से काफी नुकसान होता है।
रात को सोने के बाद जब हम सुबह सोकर उठते है उस समय हमारा पेट खाली हो जाता है। इस दौरान सीधे चाय पीने से पेट के पाचक जूस की बनने की प्रक्रिया में विपरीत प्रभाव पड़ता है, और उल्टी की भी परेशानी होने लगती है। साथ ही घबराहट भी होने लगती है। आइये जाने अन्य चाय पीने से हानियाँ व चाय के हानिकारक प्रभाव के बारे में |
( और पढ़ेचाय कॉफी के नुकसान )

खाली पेट चाय पीने के नुकसान और दुष्प्रभाव :

1- एसिडिटी – रात को सोने के बाद से लेकर सुबह उठने तक हमारा पेट -खाली हो जाता है। खाली पेट चाय पिने से एसिडिटी होने लगती है और उल्टी की भी परेशानी होने लगती है।

2- पेट फूलने की समस्या –खाली पेट चाय पीने से पेट फूलने की एवं गैस बनने की समस्या होने लगती है। शरीर पर प्रभावखाली पेट चाय पीने से शरीर में प्रोटीन और अन्य दूसरे पोषक पदार्थों का अवशोषण ठीक तरह से नहीं हो पाता है, जो शरीर को प्रभावित करते हैं और आप कई गंभीर बीमारियों का शिकार हो जाते हैं।

3-मोटापा –मोटापे का एक मुख्य कारण खाली पेट चाय का सेवन भी है। चाय में इस्तेमाल होने वाली पत्ती और चीनी शरीर के अंदर जाकर चर्बी बढ़ाने काकाम करती है, जिससे वजन बढ़ने लगता है।

4-बहुमूत्रता-चाय में कुछ मात्रा में कैफीन होती है और साथ ही इसमें एलथायनिन, थियोफाइलिन भी होता है जो उत्तेजित करने का काम करते हैं। इससे पेशाब की मात्रा बढ़ जाती है।

5-अनिद्रा- चाय में मिलने वाले कैफीन के कारण अनिद्रा की समस्या हो सकती है।

6-ब्लड प्रेशर-चाय में थेऑफीलिन के कारण ब्लड प्रेशर बढ़ाने के खतरा रहता है।

7- प्रोस्टेट कैंसर –पूरी तरह से ये अभी सिद्ध तो नही हुआ है लेकिन कुछ प्रारंभिक शोध में यह बात पता चली है की खाली पेट चाय पीने से पुरुषों को प्रोस्टेट संबंधी बीमारी हो सकती है।
( और पढ़े चाय पीने के नुकसान )

चाय छोड़ने के उपाय इन हिंदी :

क्या है चाय का विकल्प
सुबह की चाय की लत इतनी आसानी से तो जाएगी नही लेकिन इसको छोड़ना स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक है। सबसे पहले तो संकल्प कर लें की चाय नहीं पियेंगे। चाय की जगह निम्न पेय ले सकते है जो ताजगी के साथ साथ स्वास्थ्य लाभ भी देगे
• सुबह ताजगी के लिए गर्म पानी ले।
• सुबह गर्म पानी में शहद निम्बू डाल के पी सकते है।
• गर्म पानी में लेमन ग्रास, तेजपत्ता, पारिजात आदि के पत्ते या अर्जुन की छाल या इलायची, दालचीनी इनमें से एक कुछ डाल कर पीये।
• गुडूची के तने का क्वाथ पीने से भी लाभ होता है।
• जिन्हें चाय की आदत पड़ गई है और नहीं छोड़ सकते वे अच्युताय हरिओम फार्मा की “ओजस्वी पेय (Achyutaya Hariom Ojasvi Peya)” ले सकते हैं। ओजस्वी चाय 14 बहूमूल्य औषधियों के संयोग से बनी है |यह ओजस्वी चाय क्षुधावर्धक, मेध्य व हृदय के लिए बलदायक है। यह मनोबल को बढ़ाती है। मस्तिष्क को तनावमुक्त करती है, जिससे नींद अच्छी आती है। यह यकृत के कार्य को सुधारकर रक्त की शुद्धि करती है।

प्राप्ति-स्थान : सभी संत श्री आशारामजी आश्रमों( Sant Shri Asaram Bapu Ji Ashram ) व श्री योग वेदांत सेवा समितियों के सेवाकेंद्र से इसे प्राप्त किया जा सकता है |