राशि अनुसार विघ्न कष्ट और समस्याये दूर करने के उपाय | Dukh Pareshani dur Karne ke Upay

Home » Blog » Successful LifeTips » राशि अनुसार विघ्न कष्ट और समस्याये दूर करने के उपाय | Dukh Pareshani dur Karne ke Upay

राशि अनुसार विघ्न कष्ट और समस्याये दूर करने के उपाय | Dukh Pareshani dur Karne ke Upay

राशि विशेष : Chinta Sankat dur karne ka Upay / Mantra

मेष और वृश्चिक राशि : मेष और वृश्चिक राशि जिनकी है, उनके जीवन में अगर विघ्न, कष्ट और समस्याये आती है | तो उनको चाहिए मेष और वृश्चिक राशि के स्वामी मंगल है | मंगल गायत्री का जप किया करें |

मंगल गायत्री मंत्र :-
१) ॐ अंगारकाय विद्महे | शक्तिहस्ताय धीमहि | तन्नो भौम प्रचोदयात |

२) ॐ मंगलाय नम: |

ये मंगल गायत्री बोले और हर मंगलवार को मसूर की डाल के दाने वो थोड़े पक्षियों को डाल दे | और जब स्नान करें तो लाल चंदन का पावडर मिल जाये तो एक चुटकी पावडर बाल्टी में डाल दिया थोडा हिलाकर उससे स्नान कर दे | बहुत फायदा होगा |

वृषभ और तुला राशि : वृषभ और तुला राशि जिनकी है वो शुक्रवार को खीर बना लें | उसमे दूध न दिखे चावल पक जाये (दूध और चावल ) शुक्रवार के दिन वो थोड़ी ठंडी करके गौ माता ( देशी गाय ) को खिलाये | पक्षियों कों थोड़े शुक्रवार को चावल के दाने डाल दे | और थोडा इलायची पावडर, थोडासा केसर पानी में डाल दिया स्नान कर लिया बहुत लाभ होगा |

मिथुन और कन्या राशि : मिथुन और कन्या राशि उसके स्वामी बुध है | कन्या राशि के स्वामी राहू भी माने गये है | इस राशिवालों को चाहिए की बुधवार को हारे मुंग थोडे से पक्षियों को डाल दे नहीं तो गाय को दे सकते है | और ॐ गं गणपतये नमः जप करें, विष्णुसहस्त्रनाम का पाठ करें, गुरुमंत्र का जप जादा करें |

कर्क राशि : कर्क राशि जिनकी है उसके स्वामी चंद्रदेव माने गये है | कर्क राशिवालों चाहिए की यथाशक्ति थोड़े चावल पक्षियों डाले और सोमवार को शिवलिंग पर दूध, जल चढ़ाकर मंत्र बोले –

ॐ त्रयम्बकं यजामहे सुगंधिं पुष्टिवर्धनम् उर्व्वारुकमिव बन्धानान्मृत्यो मृक्षीय मामृतात् ।

ये भी याद न रहे तो – ॐ हरि ॐ ॐ करते हुए दूध , जल चढ़ा दिया | चंद्रमा को अर्घ्य दे दिया शुक्ल पक्ष में , दूज से पूनम तक अगर न कर पायें तो हर पूनम को दें चद्रंमा को अर्घ्य और मन में बोले की भगवान ने गीता में आपने  कहाँ है – नक्षत्र का अधिपति मैं ही हूँ मेरा अर्घ्य स्वीकार करों और मेरे जीवन में दुःख, दरिद्रता दूर करों, तो बहुत फायदा होगा |

इसे भी पढ़े : पीपल वृक्ष से नवग्रह दोष दूर करने के अचूक उपाय | Grah Dosh Nivaran upay in Hindi

सिंह राशि : सिंह राशि जिनकी है इसके स्वामी सूर्य है | नित्य सूर्य को अर्घ्य देना चाहिए | अगर सिंह राशिवालों को अगर तकलीफ आती है तो गेहूँ के दाने थोड़े रोज नहीं तो हर रविवार को पक्षियों को डालने चाहिए | और गेहूँ के आटे की रोटी और गुड़ गाय को खिला दे, गाय न मिले तो किसी गरीब को दे दे और गुरुमंत्र का जप खूब करें | रविवार को विशेष ऐसे लोग जिनकी सिंह राशि है जप जादा करे |

धनु और मीन : धनु और मीन जिनकी राशि है | इसके स्वामी भगवान ब्रहस्पतिजी है | लेकिन मीन के स्वामी केतु भी बताये जाते है | तो धनु और मीन राशिवालों को चाहिए की गुरु में भक्ति खूब बढ़ाये क्योंकि इसके स्वामी ब्रहस्पतिजी है | धनु और मीन राशि जिनकी है वो रोज थोड़ी देर गुरुदेव की तस्वीर सामने रखकर मंत्र बोले – ॐ ऐं क्लीं ब्रहस्पतये नम : |

गुरुवार को आम के पेड़ को चावल, जल, चने के दाने मिलाकर चढ़ा सकते है और बैठकर थोड़ी देर गुरुमंत्र का जप कर लें |

मकर और कुंभ : मकर और कुंभ राशि जिनकी है | इसके स्वामी शनिदेवता है | तो इन राशिवालों को चाहिए की हनुमान चालीसा का पाठ पूरी ना पढ़ सके तो –
मनोजवं मारुततुल्य वेगं जितेन्द्रियं बुद्धिमतां वरिष्ठं | वातात्मजं वानरयूथ मुख्यं श्री राम दूतं शरणं प्रपद्ये ||

पूरा याद न रहा तो – श्रीरामदूतं शरणम प्रपद्ये | श्रीरामदूतं शरणम प्रपद्ये |

श्रोत  – Shri Sureshanandji satsang Kalyan Mumbai

मुफ्त हिंदी PDF डाउनलोड करें Free Hindi PDF Download

 

2017-09-04T13:55:59+00:00 By |Mantra Vigyan, Successful LifeTips|0 Comments

Leave a Reply