हृदय के लिए अमृत है लहसुन | Garlic Health Benefits For Heart

Home » Blog » Herbs » हृदय के लिए अमृत है लहसुन | Garlic Health Benefits For Heart

हृदय के लिए अमृत है लहसुन | Garlic Health Benefits For Heart

दिल का रखवाला लसुन :

यह विश्वास सदियों से जिंदा है कि लहसुन सेहत के लिए फायदेमंद है। शायद इसीलिए लोग इसकी तीखी गंध को नजर अंदाज कर इसे उगाते और खाते रहे हैं।

चिकित्सा वैज्ञानिकों ने शोध कार्य से अब यह साबित कर दिया है। कि यह लोक-विश्वास बेबुनियाद नहीं है। उनके मुताबिक लहसुन में यह खूबी है कि उसे ग्रहण करने से धमनियाँ लंबी उम्र तक स्वस्थ और लचीली बनी रहती हैं, उनके अंदर चरबी की परतें नहीं जमतीं और उनमें रक्तप्रवाह स्वस्थ बना रहता है। रक्त कोलेस्ट्रोल और रक्तचाप पर भी इसका अनुकूल प्रभाव पड़ता है। इसे नियम से लेने पर रक्तसंचार प्रणाली में रक्त-कणों का थक्का (क्लॉट) बनने की आशंका बहुत हद तक कम हो जाती है।

लहसुन की यही खूबी दिल के लिए बचावकारी सिद्ध हो सकती है। दिल का दौरा रक्तधमनियों में खून का थक्का फैंस जाने से पैदा होता है।

लहसुन के स्वास्थ्यकारी होने की पुष्टि अमेरिकी शोध-चिकित्सक अलबेनी की स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ न्यूयॉर्क के डॉ. इरिक ब्लॉक ने भी की है। डॉ. ब्लॉक ने लहसुन में सेलेनियम और दूसरे सूक्ष्म तत्त्व उपस्थित होने की पुष्टि की है जिनसे रक्त धमनियों में चरबी जमने की क्रिया पर अंकुश लगता है और खून का दौरा कमजोर नहीं पड़ता।
आइए हृदय रोग में लहसुन से होने वाले लाभ व उपयोगी नुस्खे आपको बताएं |

हृदय रोग में लहसुन के फायदे :

1- दूध उबालते समय उसमें लहसुन के एक से दो दाने छीलकर डालें। खुब पकने पर लहसुन के दाने छानकर निकाल दें और दूध पिला दें।

( और पढ़ेह्रदय को स्वस्थ रखने के कुछ उपाय )

2– लगभग 10 से 30 बूंद लहसुन के रस को दूध में मिलाकर या 2 से 3 ग्राम लहसुन के काढ़े को घी में मिलाकर खाने से हृदय मजबूत होता है और पेशाब खुलकर आता है इससे शरीर की सूजन खत्म हो जाती है।

3- यदि यह शंका हो कि अमुक समय हृदय में दर्द शुरू हो सकता है, तो लहसुन की दो से चार कलियां चबाकर खा जायें।

( और पढ़ेहृदय रोग (दिल की बीमारी) के घरेलू उपचार )

4- हृदय की गति रुकने की संभावना होते ही तीन-चार लहसुन की कलियों को तुरन्त चबा लेने से हार्टफेल नहीं होता। इसके पश्चात इसे दूध में उबालकर देने से काफी लाभ होता है और लहसुन को पीसकर दूध के साथ पीने से ब्लडप्रेशर में भी लाभ होता है। लहसुन हृदय रोगी के लिए अति उत्तम प्रकृति प्रदत्त औषधि है।

5– दिल में दर्द और सांस फूलने पर लहसुन की दो-तीन कलियों को चबाकर रस चूसने से बहुत लाभ होता है। इससे पेट से गैस निकल जाने पर हृदय का दबाव भी कम होता है।

( और पढ़ेह्रदय रोग के लक्षण ,कारण ,बचाव और सावधानी )

6- लहसुन का रस 10 से 30 बूंद घी के साथ या दूध में उबालकर सेवन करने से हृदय के ऊपर का दबाव कम होकर, हृदय का दर्द नश्ट होता है।

2019-02-04T11:33:22+00:00By |Herbs|0 Comments

Leave A Comment

5 × 2 =