Project Description

Benefits :- अश्वगंधादि सप्तधातुवर्धक , रसायन व बलवर्धक द्रव्यों से बनी यह वटी शरीर को पुष्ट , बलवान व वीर्यवान बनाती है । वृद्धावस्था को दूर रखकर दीर्घ यौवन की प्राप्ति कराती है! गर्भिणी माताएँ, वृद्ध,कृश व दुर्बल व्यक्ति तथा धातुक्षय अथवा पुरानी बिमारी के कारण क्षीण हुए व्यक्तियों के लिए ‘पुष्टि गोल्ड’ वटी वरदान स्वरुप है । इन दिनों में स्निग्ध, मधुर व पौष्टिक पदार्थ जैसे – घी , मक्खन, केला , खजूर आदि का सेवन विशेष रूप से करें ।

Direction For Use :- -४ गोलियाँ सुबह शाम दूध, घी अथवा शहद के साथ लें ।