Project Description

सदा प्रसन्न रहो | Bapu ji

निरन्तर अखण्ड प्रसन्न रहनेका स्वभाव बनाओ। ज्यों ज्यों प्रसन्नता बढ़ती जायगी, प्रतिकूलता
लज्जित होकर हटती जायगी।