पूज्य बापू जी का संदेश

ऋषि प्रसाद सेवा करने वाले कर्मयोगियों के नाम पूज्य बापू जी का संदेश धन्या माता पिता धन्यो गोत्रं धन्यं कुलोद्भवः। धन्या च वसुधा देवि यत्र स्याद् गुरुभक्तता।। हे पार्वती ! जिसके अंदर गुरुभक्ति हो उसकी माता धन्य है, उसका पिता धन्य है, उसका वंश धन्य है, उसके वंश में जन्म लेने वाले धन्य हैं, समग्र धरती माता धन्य है।" "ऋषि प्रसाद एवं ऋषि दर्शन की सेवा गुरुसेवा, समाजसेवा, राष्ट्रसेवा, संस्कृति सेवा, विश्वसेवा, अपनी और अपने कुल की भी सेवा है।" पूज्य बापू जी

यह अपने-आपमें बड़ी भारी सेवा है

जो गुरु की सेवा करता है वह वास्तव में अपनी ही सेवा करता है। ऋषि प्रसाद की सेवा ने भाग्य बदल दिया

कालीमुद्रा : सदा जवान बनाये रखती है यह मुद्रा | Kali mudra benefits

Home » Blog » Mudra » कालीमुद्रा : सदा जवान बनाये रखती है यह मुद्रा | Kali mudra benefits

कालीमुद्रा : सदा जवान बनाये रखती है यह मुद्रा | Kali mudra benefits

कालीमुद्रा(Kali mudra)कैसे लगाये :

पद्मासन, सिद्धासन या वज्रासन में बैठकर अपने होठों को ऐसे आकार में कर लें कि जैसे आप सीटी बजा रहें हो। इस हालत में पहले मुंह से गहरी सांस लें और फिर उसे नाक से छोड़ दें। ऐसा करते समय आपकी नज़र और ध्यान नाक के आगे वाले भाग पर रहना चाहिए।
Kali mudra benefits in hindi

कालीमुद्रा(Kali mudra) से लाभ:

इससे शरीर की कुछ खास तरह की ग्रंथियों से रस का बहाव होता है तथा पुराने रोग और बुढ़ापे को दूर करने में मदद मिलती है तथा यह मुद्रा भोजन पचाने की क्रिया को भी ठीक करती है।

इसे भी पढ़े – भुजंगिनी मुद्रा : पेट के सभी रोगों को दूर करने वाली मुद्रा | Health benefits of Bhunjagini mudra

Leave a Reply