यम हरि मुद्रा : स्त्रियों के स्तनों के सारे रोगों को नष्ट करती है यह मुद्रा | Benefits of Yam hari mudra in Hindi

Last Updated on December 3, 2019 by admin

मुद्रा बनाने का तरीका –

Yam hari mudra in Hindi

सबसे पहले अपने दोनों हाथों की सबसे छोटी उंगलियों को आपस में मिला लें। इसके बाद अपने अंगूठे को मिलाकर बाकी की तीनों उंगलियों को हथेली की तरफ मोड़ लें। इसे ही यम हरिमुद्रा कहते हैं।
इसे भी पढ़े – ज्ञान मुद्रा : मन को शांति देने वाली महामुद्रा | Gyan Mudra – How To Do Steps And Benefits

लाभ-

Yam hari mudra benefits in hindi

<> इस मुद्रा को करने से नाड़ियों को बल मिलता है।
<> यह नाभि से ऊपर के भाग को शक्ति देती है और स्त्रियों के स्तनों के सारे रोगों को नष्ट करती है।
<> इस मुद्रा के निरंतर अभ्यास से पेट के रोग जैसे- कब्ज, भूख न लगना और जिगर की कमजोरी दूर होती है।

विशेष –

यम हरिमुद्रा को रोजाना 10 मिनट सुबह और 10 मिनट शाम को करें। फिर धीरे-धीरे इसे करने का समय बढ़ाते जाएं।

1 thought on “यम हरि मुद्रा : स्त्रियों के स्तनों के सारे रोगों को नष्ट करती है यह मुद्रा | Benefits of Yam hari mudra in Hindi”

Leave a Comment

error: Alert: Content selection is disabled!!
Share to...