बच्चों की सर्दी तथा खांसी को दूर करने के 12 सबसे असरकारक घरेलू उपाय | Bacho ki Khansi ke Gharelu Nuskhe in Hindi

छोटे बच्चों को अक्सर सर्दी-खांसी का रोग होता रहता है। इस रोग के कारण बच्चा हर वक्त खांसता रहता है तथा उसकी नाक से पानी निकलता रहता है। बच्चों को यह रोग उसकी मां को ठंड लग जाने के कारण, मां के दूध में कोई दोष उत्पन्न होने के कारण, मां को खांसी तथा सर्दी होने के कारण तथा बच्चे को ठंड लग जाने के कारण तथा अन्य कारणों से भी हो जाता है। आइये जाने natural remedies for cold and cough in babies

बच्चों की सर्दी-खांसी के आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खे : Bachon ki Khansi ka Desi Ilaj in Hindi

1. काली मिर्च – बच्चे को गर्म पानी में गुड़, जीरा और काली मिर्च का मिश्रण दे। सर्दी, खांसी और गले में खराश होने पर यह मिश्रण असरदार होता है।

2. हल्दी – बच्चे को 1-2 ग्राम भुनी हुई हल्दी का चूर्ण शहद के साथ दिन में 3-4 बार चटाने से बच्चे की सर्दी तथा खांसी का रोग ठीक हो जाता है।

3. अदरक dadi maa ke nuskhe for cough and cold for babies :आधी कटोरी देसी घी में एक गांठ अदरक पीस कर उसमें २५ ग्राम गुड़ डालकर पकालें। ठंडा होने पर थोड़ा – थोड़ा बच्चे को खिलाये। यह खाँसी की अचूक दवा है।

4. पीपल – काली मिर्च, सोंठ और पीपल को बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण बना लें। इसके बाद इस चूर्ण को 2 ग्राम की मात्रा में लेकर शहद के साथ सदी-खांसी से पीड़ित बच्चे को दिन में 3 बार चटाने से लाभ होता है। (इसे भी पढ़े : कफ दूर करने के सबसे कामयाब 35 घरेलु उपचार )

5. लहसुनलहसुन की कली को पानी में उबाल लें। फिर इस लहसुन को मसलकर 5 से 10 ग्राम मिश्री के साथ दिन में 2-3 बार बच्चे को सेवन कराने से उसका सर्दी-खांसी का रोग ठीक हो जाता है।

6. गर्म ठंडा सेंक – सर्दी-खांसी से पीड़ित बच्चे के शरीर के आमाशय क्षेत्र पर गर्म ठंडा सेंक दिन में 2-3 बार करना चाहिए फिर उसके पेट पर गीली पट्टी दिन में 3-4 बार करनी चाहिए। इससे बच्चे की सर्दी तथा खांसी का रोग ठीक हो जाता है। इस प्रकार से बच्चे का इलाज करने से बच्चे को सर्दी तथा खांसी नहीं होती है तथा उसके इस प्रकार के रोग ठीक हो जाते हैं।

7. बच्चे को इन रोगों से बचाने के लिए बच्चे की मां को भी अपनी सेहत का पूरा ख्याल रखना चाहिए। यदि किसी बच्चे की मां को सर्दी तथा खांसी हो जाती है तो उसका भी तुरंत इलाज कराना चाहिए।

8. मालिश – एक कप सरसो के तेल में अजवाइन और लहसुन की दस कलियां लेकर उसे पकाए, थोड़ा ठंडा होने पर उससे बच्चे की मालिश करे। सरसों के तेल, लहसुन और अजवाइन में कीटाणु-रोधक और विषाणु-रोधक गुण होते हैं। यह आपके बच्चे को काफी मात्रा में आराम प्रदान करने में सहायता करता है।

9. सहजन – सहजन की कोमल हरी पत्तियों को तोड़ें। एक मोटी पेनी वाली कढ़ाई में १/२ कप नारियल तेल गर्म करें और उसमें मुट्ठीभर सहजन की पत्तियां डालें। पत्ते सूख जाने के बाद, आप कढ़ाई को आंच से हटा सकती हैं। सर्दी, खांसी और कफ जमा होने पर इस तेल को अपने बच्चे के बालों के तेल के रूप में प्रयोग करें।

10. सेंधा नमक – सरसों का तेल गर्म करें। इसमें एक छोटा चम्मच सेंधा नमक डालें। इसे बच्चे की पीठ और छाती पर लगायें।

11. तुलसी Adrak Tulsi se Bachon ki Khansi ka ilaj : अदरक और तुलसी दोनों को पीस लें। शहद डालें और इसे अपने बच्चे को दें।

12. घी और काली मिर्च – एक चम्मच घी लें और इसमें चुटकीभर ताज़ा कूटा हुआ काली मिर्च का पाउडर डालें। यह स्वादिष्ट होता है, और सर्दी-खांसी में निश्चित रूप से आराम पहुंचाता है।

(दवा व नुस्खों को वैद्यकीय सलाहनुसार सेवन करें)

Leave a Comment