पीठ पर निकले फोड़े का घरेलू उपचार

Last Updated on January 21, 2023 by admin

पृष्टार्बुद (पीठ का फोड़ा) रोग में रोगी की पीठ पर बड़े-बड़े आकार के दर्दकारक फोड़े पैदा हो जाते हैं। इन फोड़ों में एक छेद न होकर कई छेद बन जाते हैं जिनमें से पीब आदि बाहर निकलते रहते हैं।

पीठ पर निकले फोड़े का इलाज (pith ke fode ka ilaj)

1. गेहूँ : गेहूँ के आटे में नमक तथा पानी डालकर गर्म करके पुल्टिस बनाकर लगाने से फोड़ा पककर फूट जाता है । 

2. मैनफल : मैनफल के पेड़ की छाल को पीसकर पृष्टार्बुद (पीठ पर फोड़ा निकलना) पर लेप करने से उसका दर्द कम हो जाता है।

3. रीठा : पीठ के फोड़े में रीठा का लेप करने से लाभ मिलता है।

4. विजयसार : विजयसार के पत्तों को बारीक पीसकर पीठ के फोड़े पर बांधने से फोड़ा जल्दी ही ठीक हो जाता है।

5. इन्द्रायण : इन्द्रायण और विशाला की जड़ को ठंड़े पानी के साथ पीसकर पीठ के फोड़े में गाढ़ा-गाढ़ा लगाने से फोड़े की सूजन और दर्द दूर हो जाते हैं।

6. सज्जीखार : सज्जीखार और यवाक्षार को पानी के साथ पीसकर पीठ के फोड़े पर लगाने से फोड़ा फूट जाता है और उसमें से मवाद निकल जाती है। जिससे फोड़े में होने वाला दर्द दूर होकर रोगी को आराम मिलता है।

7. जबाद : पीठ में फोड़े में जबाद कस्तूरी का लेप करने से फोड़ा तुरन्त ही फूट जाता है और उसमें से मवाद निकलकर रोगी को राहत मिलती है।

8. रसौत : रसौत और कपूर को मक्खन मे मिलाकर पीठ के फोड़े में लगाने से फोड़े में होने वाला दर्द कम हो जाता है।

(अस्वीकरण : दवा, उपाय व नुस्खों को वैद्यकीय सलाहनुसार उपयोग करें)

Leave a Comment

error: Alert: Content selection is disabled!!
Share to...