पूज्य बापू जी का संदेश

ऋषि प्रसाद सेवा करने वाले कर्मयोगियों के नाम पूज्य बापू जी का संदेशधन्या माता पिता धन्यो गोत्रं धन्यं कुलोद्भवः। धन्या च वसुधा देवि यत्र स्याद् गुरुभक्तता।।हे पार्वती ! जिसके अंदर गुरुभक्ति हो उसकी माता धन्य है, उसका पिता धन्य है, उसका वंश धन्य है, उसके वंश में जन्म लेने वाले धन्य हैं, समग्र धरती माता धन्य है।""ऋषि प्रसाद एवं ऋषि दर्शन की सेवा गुरुसेवा, समाजसेवा, राष्ट्रसेवा, संस्कृति सेवा, विश्वसेवा, अपनी और अपने कुल की भी सेवा है।"पूज्य बापू जी

यह अपने-आपमें बड़ी भारी सेवा है

जो गुरु की सेवा करता है वह वास्तव में अपनी ही सेवा करता है। ऋषि प्रसाद की सेवा ने भाग्य बदल दिया

अरूचि(Disgust for Food)

Home » Blog » Disease diagnostics » पेट के रोग(Stomach diseases) » अरूचि(Disgust for Food)

भूख बढ़ाने के 55 घरेलू नुस्खे : Bhukh Badhane ke Gharelu Nuskhe

2017-08-03T11:45:04+00:00 By |Disease diagnostics, अरूचि(Disgust for Food), पेट के रोग(Stomach diseases)|

परिचय :bhook/bhukh na lagna in hindi आमाशय की खराब या पाचनतंत्र में गड़बड़ी उत्पन्न होने के कारण भूख लगनी [...]

अगर लगती हो भूख कम(अरूचि) | Home Remedies for Anorexia

2017-08-03T10:38:43+00:00 By |Disease diagnostics, अरूचि(Disgust for Food)|

कारण : bhukh na lagna भोजन करने की इच्छा न होना, भोजन बेस्वाद लगना, भूख न लगना आदि को [...]

भूख न लगना या मन्दाग्नि का सरल आयुर्वेदिक निदान | Natural home remedies For Indigestion

2017-08-03T11:54:24+00:00 By |Disease diagnostics, अरूचि(Disgust for Food), पेट के रोग(Stomach diseases), मंदाग्नि(Indigestion)|

अजीर्ण रोग होने के कारण:- मनुष्य की पाचन क्रिया में कोई परिवर्तन होना, पाचन क्रिया में रुकावट आना, अधिक [...]