मधुमक्खी ततैया काटने पर दर्द व सूजन दूर करने के 10 घरेलु उपचार | Madhumakhi katne per Gharelu Upchar

Home » Blog » Disease diagnostics » मधुमक्खी ततैया काटने पर दर्द व सूजन दूर करने के 10 घरेलु उपचार | Madhumakhi katne per Gharelu Upchar

मधुमक्खी ततैया काटने पर दर्द व सूजन दूर करने के 10 घरेलु उपचार | Madhumakhi katne per Gharelu Upchar

ततैया काटने का देशी उपचार : Tataiya Ke Katne Ka Ilaj

अगर कभी भी ततैया या शहद की मक्खी या भंवरा या कोई भी जहरीला कीड़ा डंक मार जाये तो तुरंत नीचे दिए गए घरेलू उपाय करने चाहिए ये ज़हर को तो दूर करेंगे ही साथ ही काटी हुयी जगह पर कोई सूजन भी नहीं आने देगा | तो आइये जानते हैं ये रामबाण उपाय.

मधुमक्खी /दतैया /बर्र काटने के घरेलु आयुर्वेदिक उपचार :

१. तुलसी : तुलसी के पत्तों को नमक के साथ पिस कर डंक लगे स्थान पर मलना चाहिये |जहर तुरंत उतर जायेगा।

२.मिटटी का तेल : ततैया के काटने के बाद आप मिटटी के तेल का उपयोग भी कर सकते हैं| मिटटी के तेल का प्रयोग करने से ततैया के काटने के बाद जिस स्थान पर ततैया ने काटा हैं उस स्थान की सूजन खत्म हो जाती हैं. मिटटी के तेल को लगाने से सूजन के साथ – साथ तथा जलन भी दूर हो जाती हैं| मिटटी के तेल को ततैया के काटने के तुरंत बाद जिस भाग पर ततैया ने काटा हैं उस भाग पर लगा लेना चाहिए| जल्दी ही घाव में आराम हो जायेगा |

३.नींबू : ततैया के काटने पर उस स्‍थान पर नींबू का रस लगाएं। सूजन और दर्द चला जाएगा।

४.सोडा : मधुमक्‍खी के डंक पर सोडा और सेंधा नमक को चटनी बनाकर लेप करने से दर्द दूर हो जाता है।

५.आक: जिस जगह पर ततैया ने काटा है वहां पर आक के पत्ते का दूध मलने से आराम मिलता है।

६. लोहे : ततैया के काटने के तुरंत बाद जिस जगह पर डंक लगा है वहां पर लोहे की कोई भी चीज हो उसे रगड़ दें और उसके ऊपर से गीले चूने का रस लगा देंगे तो जहर उतर जायेगा।

७. आम : ततैया के काटने के तुरंत बाद आम का अचार का गूदा करीब 3-4 मिनट तक घाव पर मलें तुरंत आराम मिलेगा।

८. अमृत द्रव्य : अमृत द्रव (Achyutaya Hariom Amrit Drav)लगाने से ततैये तथा अन्य छोटे-मोटे विषैल कीटो आदि का विष फौरन नष्ट हो जाता है व दर्द से राहत मिलती है ।
प्राप्ति-स्थान : सभी संत श्री आशारामजी आश्रमों( Sant Shri Asaram Bapu Ji Ashram ) व श्री योग वेदांत सेवा समितियों के सेवाकेंद्र से इसे प्राप्त किया जा सकता है |

९.प्याज : ततैया या मक्खी के काटने पर अगर प्याज लगा दिया जाए तो भी रोगी को लाभ मिलता है।

१०.सदाबहार : इसकी पत्तियों के रस को ततैया या मधुमक्खी के डंक मारने पर लगाने से बहुत जल्दी आराम मिलता है। इसी रस को घाव पर लगाने से घाव भी जल्दी सूखने लगते हैं। त्वचा पर खुजली, लाल निशान या किसी तरह की एलर्जी होने पर पत्तियों के रस को लगाने पर आराम मिलता है।

keywords –   madhumakhi katne per gharelu upchar,madhumakhi ka dank, Tateya ke Katne par hone wali sujan ko kaise kam kare,madhumakhi ki sujan ka ilaj,Madhumakhi ke Kat ne Par Kya Kare,Madhumakhi ke katne per Gharelu Upchar

Leave A Comment

fifteen − four =