परिवार में सुख समृद्धि व शांति के 12 शास्त्रीय उपाय | Sukh Samridhi ke Upay

Home » Blog » Successful LifeTips » परिवार में सुख समृद्धि व शांति के 12 शास्त्रीय उपाय | Sukh Samridhi ke Upay

परिवार में सुख समृद्धि व शांति के 12 शास्त्रीय उपाय | Sukh Samridhi ke Upay

किस्मत चमकाने वाले सुख समृद्धि के उपाय : ghar me sukh shanti ke upay

1] नौकरी मिलने में समस्या : Naukri pane ke saral upay in hindi

जिनको नौकरी नहीं मिलती या मिलती है पर छूट जाती है .. वे लोग शनिवार या मंगलवार या शनिमंगल दोनों दिन पीपल की परिक्रमा करें …हो सके तो अपने हाथ से जल..सादा जल हो उसमें थोड़े काले तिल और एकाध चम्मच गंगा जल डालदें ..वो पीपल में चढ़ा कर जप करते – करते परिक्रमा करें | थोड़ी देर बैठ के ध्यान और प्रार्थना करें| आदित्य ह्रदय स्त्रोत्र का पाठ करें | फिर देखो उनकी नौकरी आदि की समस्या कैसे दूर होती है !!

2] सम्पति और सौभाग्य की बढ़ोतरी के लिए : Ghar mein Barkat ke Upay in hindi

भविष्य पुराण के अनुसार ज्येष्ठ मास शुक्ल पक्ष तृतीया के दिन रम्भा व्रत आता है. इस दिन व्रत करने से और जप करने से सम्पति और सौभाग्य में बढ़ोतरी होती है | माँ पार्वती ने भी ये व्रत किया था | सुहागन देवी को खास करना चाहिए …जिनके घर में शादी के बाद दिक्कतें आ रही हैं, उन बहनों को आप बता सकते हो | इस दिन तीन मंत्र बोल कर माँ पार्वती को प्रणाम करना चाहिए …

ॐ महाकाल्‍यै नमः
ॐ महालक्ष्म्यै नमः
ॐ महासरस्वत्यै नमः

3] सौभाग्य की रक्षा के लिए :

माताएं – बहने पार्वतीजी का स्मरण करके ..पार्वती जी का मंत्र जपें तो उनके सौभाग्य की रक्षा होती है…सुहाग की रक्षा के लिए ये सिद्ध मंत्र है ..पार्वतीजी को तिलक करें …अपने को भी तिलक करें भूमध्य में और नमस्कार करके ये मंत्र जपें ” ॐ ह्रीं गौराये नमः” …सौभाग्य की रक्षा होगी ..सुख -शांति और स्मृति में भी इजाफा होगा |

4] मृत्यु से रक्षा : Mrityu se Bachne ke upay

विष्णु धर्मोत्तर ग्रंथ में बताया कि जिनके परिवार में ज्यादा बीमारी …..जल्दी-जल्दी किसी की मृत्यु हो जाती है वे लोग मार्गशीर्ष मास में शुक्ल पक्ष के दशमी तिथि के दिन (दशमी तिथि के स्वामी यमराज है मृत्यु के देवता | भगवान धर्मराज यमराज का मानसिक पूजन कर और हो सके तो घी की आहुति दे | एक दिन पहले से हवन की छोटी सी व्यवस्था कर लेना घी से आहुति डाले इससे दीर्घायु, आरोग्य और ऐश्वर्य तीनों की वृद्धि होती है विष्णु धर्मोत्तर ग्रंथ में बताया है | आहुति डालते समय ये मंत्र बोले–

[ ध्यान रखे जिसके घर में तकलीफे है वो जरुर आहुति डाले और डालते समय स्वहा बोले और जो आहुति न डाले तो वो नम: बोले | ] ॐ यमाय नम:
ॐ धर्मराजाय नम:
ॐ मृत्यवे नम:
ॐ अन्तकाय नम:
ॐ कालाय नम:

ये पाँच मंत्र बोले ज्यादा देर तक आहुति डाले तो भी अच्छा है |

5] शरीर मजबूत बनाने : Sharir ko Majboot Banaane ka Tarika

सर्दियों में रात को चना भिगा के रखना ..थोड़े १० दाने मूंगफली के भिगा के रखना सुबह चबा-चबा के खाना ..चने की दाल अथवा चना अथवा मूंग इस तरह से खाना | तबियत अच्छा रखना |

6] सौभाग्य और ऐश्वर्य बढाने हेतु : Sukh samridhi ke Upay

शुक्रवार के दिन जो लोग अपने जीवन में सुख सौभाग्य और ऐश्वर्य को बढ़ाना चाहे वे शुक्रवार का व्रत करें | व्रत मतलब नमक -मिर्च बिना का भोजन ..खीर आदि खा सकते हैं और जप ज्यादा करें |

7] विद्या प्राप्ति और धंधे में सफलता पाने हेतु : Vidya prapti ke Achuk Upay

जिनको विद्या प्राप्ति में सफलता नहीं मिलती या तो व्यापार करते हैं पर कोई progress नहीं है …वे बुधवार के दिन गुरु मंत्र का जप ज्यादा करें रोज की अपेक्षा …. और उस दिन दोपहर को आप खाना खाने से पहले केवल ३ पत्ते तुलसी के गिनकर ..गंगा जल में डूबा कर यानि कटोरी में रखें थोड़ा गंगा जल उसमें धोकर ..वो तीन पत्ते खा जाएँ ..उसके बाद भोजन करें |इस से….

★ विद्या प्राप्ति में लाभ होता है,
★ धन प्राप्ति होती है,
★ व्यापार वृद्धि होती है और
★ शरीर स्वस्थ रखने में मदद मिलती है |

और जप ज्यादा करें |

8] मृत्यु के समय :

मरते समय भी गौ के गोबर का लेप करके मुर्दे को रखो ..उसकी सद्गति होगी | मरते समय जो मर जा रहे हैं उनके मुँह में तुलसी के पत्ते रखो | गाय के गोबर के कंडे का धुआं करो तो उसके बैक्टेरिया दूसरे को नहीं सताएँगे |

9] मांगलिक हो तो : manglik dosh dur karne ke upay

बेटी बड़ी हो गयी मुझे उसकी बहुत चिंता है ! अरे ! फ़िक्र फेंक कुँए में | मंगल का ग्रह हो तो तेल और सिन्दूर का चोला चढा दो | हनुमानजी सात मंगलवार और एक मंत्र है ” अं राम अं |” २१ -२१ माला जप करें अपने आप मंगल शांत हो जायेगा | मांगलिक छोरा हो छोरी हो उसकी चिंता मत करो | मैं भगवान की …भगवान मेरे हैं | वासुदेव सर्वमिति |

10] शादी के दिन :

किसी के घर में कोई शादी हो … तो उनको बताएं कि शादी के दिन वर राजा को ध्रुव का तारा दिखाया जाता है और लड़की को अरुंधती का तारा दिखाया जाता है …सदा अपने पति के साथ रहे …सदा सुहागिन रहे ….ऐसा संकेत …अरुंधती की तरह | लड़के को – पति को ध्रुव तारा दिखाया जाता है ..तुम्हे जीवन में ध्रुव जैसी अटलता – अचलता प्राप्त हो … तुम्हारी सम्पति भी अचल हो … तुम्हारे घर में खूब स्वस्थस्तुते कुशलामस्तु चिरायुरस्तु |

11] पान मसाला सिगरेट से मुक्ति पाने :

पान मसाले छोड़ ने हो तो १०० ग्राम सौंफ , १० ग्राम अजवाइन , २ नींबू का रस और थोड़ा कालीमिर्च को चूल्हे पर सेक कर डब्बे में भरकर रखो ..जब जरुर पड़े पान मसाला या सिगरेट की तब मुंह में रख दो..इससे पाचन भी बढ़िया होगा..वो पान मसाला तो केन्सर करता है, अकाल मृत्यु लाता है,धातु दुर्बल करताहै ..उससे बच सकोगे |

12] जप में मन न लगे तो :

कभी-कभी आपका घर पर जप करने में मन नहीं लग रहा हो तो एक काम करना … गुरुदेव की एक तस्वीर कुर्सी पर रख कर …चारों तरफ परिक्रमा करते हुए जप करो …गुरुदेव की भी परिक्रमा होगी और शिवजी कहते हैं, गुरुदेव का शरीर अक्षय वट वृक्ष है और कोई बोले तो हम न माने …….पर साक्षात् भोला नाथ कहते हैं …अक्षय वट वृक्ष की परिक्रमा करें तो मनोकामना पूरी होती है | गुरुदेव की कुटीर की भी परिक्रमा कई आश्रमो में होती है |

श्रोत :- श्री सुरेशानंदजी महाराज

2017-11-01T14:07:18+00:00 By |Successful LifeTips|0 Comments

Leave A Comment

one + 5 =