पूज्य बापू जी का संदेश

ऋषि प्रसाद सेवा करने वाले कर्मयोगियों के नाम पूज्य बापू जी का संदेशधन्या माता पिता धन्यो गोत्रं धन्यं कुलोद्भवः। धन्या च वसुधा देवि यत्र स्याद् गुरुभक्तता।।हे पार्वती ! जिसके अंदर गुरुभक्ति हो उसकी माता धन्य है, उसका पिता धन्य है, उसका वंश धन्य है, उसके वंश में जन्म लेने वाले धन्य हैं, समग्र धरती माता धन्य है।""ऋषि प्रसाद एवं ऋषि दर्शन की सेवा गुरुसेवा, समाजसेवा, राष्ट्रसेवा, संस्कृति सेवा, विश्वसेवा, अपनी और अपने कुल की भी सेवा है।"पूज्य बापू जी

यह अपने-आपमें बड़ी भारी सेवा है

जो गुरु की सेवा करता है वह वास्तव में अपनी ही सेवा करता है। ऋषि प्रसाद की सेवा ने भाग्य बदल दिया
Fugiat dapibus, tellus ac cursus commodo, mauris sit condim eser ntumsi nibh, uum a justo vitaes amet risus amets un. Posi sectetut amet fermntum orem ipsum quia dolor sit amet, consectetur, adipisci velit, sed quia nons.
Fugiat dapibus, tellus ac cursus commodo, mauris sit condim eser ntumsi nibh, uum a justo vitaes amet risus amets un. Posi sectetut amet fermntum orem ipsum quia dolor sit amet, consectetur, adipisci velit, sed quia nons.
Fugiat dapibus, tellus ac cursus commodo, mauris sit condim eser ntumsi nibh, uum a justo vitaes amet risus amets un. Posi sectetut amet fermntum orem ipsum quia dolor sit amet, consectetur, adipisci velit, sed quia nons.

Mantra Vigyan

Home » Blog » Mantra Vigyan

सभी प्रकार के नेत्ररोगों के लिये यह है असरकारक आयुर्वेदिक उपाय | Herbal Remedies for Eye Diseases

2017-03-23T17:09:11+00:00 By |Disease diagnostics, Mantra Vigyan, आँखों के रोग ( Eye diseases ), सर्वप्रकार के नेत्ररोग(eye disease)|

पहला प्रयोगः पैर के तलवे तथा अँगूठे की सरसों के तेल से मालिश करने से नेत्ररोग नहीं होते। दूसरा प्रयोगः [...]

पवित्र ओ३म् का उच्चारण | The benefits of Omkar sadhana

2017-03-16T15:41:50+00:00 By |Mantra Vigyan|

प्रश्न : ओ३म् के उच्चारण के शारीरिक लाभ क्या हैं? उत्तर: कुछ लाभ नीचे दिए जाते हैं १. अनेक बार [...]

आयु तथा बुद्धिवर्धक प्रयोग

2017-03-03T15:21:55+00:00 By |Mantra Vigyan|

अपने जन्मदिवस पर ८ चिरंजीवियों (मार्कंडेय, अश्वथामा, राजा बलि, हनुमानजी, विभीषण, वेद व्यास जी, कृपाचार्य जी, परशुरामजी) का सुमिरन [...]

मंत्र से आरोग्यता -बिज मन्त्रों का अदभुत सामर्थ | Mantra for Health

2017-02-09T15:58:25+00:00 By |Mantra Vigyan|

अभी तो वैज्ञानिक भी भारतीय मंत्र विज्ञान की महिमा जानकर दंग रह गये हैं। शब्दों की ध्वनि का अलग-अलग अंगों [...]

बुरे सपने आते हों तो..? अपनाएं ये उपाय

2017-02-09T15:13:05+00:00 By |Mantra Vigyan|

क्या आपको बुरे सपने आते हैं ? ये हैं उपाय १) बुरे सपने आते हों तो सिरहाने के नीचे तीन [...]

ॐ केवल मंत्र नहीं, अपितु औषधि भी है

2017-02-06T13:10:26+00:00 By |Mantra Vigyan|

१. ॐ क्या है ? ॐ को सभी मंत्रों का राजा माना जाता है । सभी बीजमंत्र तथा मंत्र [...]

अच्छा सुयोग्य वर प्राप्ति के लिए | Mantra to get good husband

2017-02-04T22:19:59+00:00 By |Mantra Vigyan|

अगर कोई अपनी बेटी की शादी की चिंता करता है तो बेटी को सिखा दे की - उत्तर दिशा की [...]

सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण मंत्र

2017-01-05T17:30:10+00:00 By |Mantra Vigyan|

जब भी सूर्य ग्रहण हो तो एक माला इस मंत्र की करें :- मंत्र – ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय [...]

बीमार है तो रूद्र गायत्री मंत्र

2017-01-05T17:22:18+00:00 By |Mantra Vigyan|

समझो किसीके घर में कोई बीमार है, या कोई कष्ट नष्ट ही नहीं हो रहा है तो दीक्षा में [...]

प्राणों की रक्षा हेतु मंत्र/रक्षा कवच बनाने के लिए

2017-01-05T17:08:14+00:00 By |Mantra Vigyan|

हनुमानजी जब लंका से आये तो राम जी ने उनको पूछा कि , रामजी के वियोग में सीताजी अपने [...]