दांतों के रोगों का सरल आयुर्वेदिक निदान

१) नीम्बू के रस को ताजे जल में मिलाकर कुल्ले करने से दांतों के अनेक रोगों में लाभ होता है! मुख की दुर्गन्ध दूर होती है |

(२) निचोड़े हुए ताजे नीम्बू के छिलके से दांतों को रगड़ने से अथवा छिलको को सुखाकर कूट-पीस के उससे मंजन करने से दांत मजबूत, साफ़ व सफ़ेद हो जाते हैं |

(३) नीम्बू का रस, सरसों का तेल व पिसा नमक मिलाकर रोज मंजन करने से दांतों के रोग दूर होकर दांत मजबूत व चमकदार बनते है |

(४) पायरिया में मसूडो पर नीम्बू का रस मलते रहने से रक्त व मवाद का श्राव रुक जाता है |