अब नहीं टूटेंगे बाल यह रहे 12 दमदार उपाय | Hair Loss Home Remedies

बालों का झड़ना : कारण और उपचार / Balo ka Tutna : Karan aur Upchar

आमतौर पर सभी व्यक्तियों के बाल झड़ते हैं, यह एक स्वाभाविक प्रक्रिया है। बाल पूरी तरह से बढ़ जाने के बाद खुद ही झड़ जाते हैं और उस जगह पर नए बाल आ जाते हैं किंतु ज्यादा बाल झडे़ तो यह एक रोग है।

बालों के टूटने या झड़ने के मूख्य कारण : Baal Jhadne ke Karan

बाल झरने के तो वैसे कई कारण होते हैं। लेकिन मुख्य रुप से पेट की गड़बड़ी, तनाव, अनिंद्रा , लंबी बीमारी, गर्भावस्था, दवाइयों तथा औषधियों की प्रतिक्रिया, बहुत अधिक सुगंधित तेलों का प्रयोग, सस्ते घटिया शैम्पू का प्रयोग और संतुलित भोजन की कमी आदि।

★ दिमाग पर जरूरत से ज्यादा जोर पड़ने से बाल ज्यादा गिरते हैं। औरतों में एक्ट्रोजन हार्मोन की कमी से बाल अधिक गिरते हैं। भोजन में लौह तत्व, विटामिन `बी` तथा आयोडीन की कमी से उम्र से पहले ही बाल गिरने लगते हैं।

★ बालों की सही सफाई न होने, कीड़े और फंगस (फफून्दी) के कारण सिर में कई बार फुंसी, एक्जिमा, दाद, खाज-खुजली आदि हो जाते हैं जिसके कारण बालों के छिद्र नष्ट होने लगते हैं और बाल टूटकर गिरने लगते हैं। इसके अलावा अधिक दिमागी परेशानी/मानसिक तनाव के कारण भी बाल टूटते हैं।

★ शरीर में खून की कमी, बालों की जड़ों में किसी रोग का होना, गर्मी आदि बीमारी, रूसी, बालों का विकास रुक जाना और धूप में हमेशा खुले सिर रहने से बाल टूटकर गिरने लगते हैं।

★ आनुवांशिक कारणों से भी (जैसे जब मां के बाल कम उम्र में गिरते हों तो उसकी बेटी के बाल भी कम उम्र में गिरना शुरू हो जाते हैं) बाल टूटते हैं।

★ कई रोगों से पीड़ित होने के कारण भी बाल झड़ने लगते हैं। मोतीझारा (टाइफाइड) बुखार में भी रोगी के बाल रूखे होकर झड़ने लगते हैं लेकिन जैसे-जैसे बुखार ठीक होने लगता बालों का झड़ना कम हो जाता है। इसके बाद झड़े बालों की जगह पर नए बाल उग आते हैं। इन पुरानी बीमारियों के कारण अन्य अंगों के रोम कूप (बालों के छिद्र) में भी कमजोरी आ जाती है। शुरू में ये बाल झड़ते हैं, लेकिन जैसे-जैसे व्यक्ति में नयी शक्ति का समावेश होता है वैसे-वैसे रोमकूप (बालों के छिद्र) मजबूत होने लगते हैं। इस कारण उड़े हुए बालों की जगह पर नये बाल आ जाते हैं। इस बीमारी के हो जाने के बाद बालों के लिए चिन्तित होने के बजाय शारीरिक खान-पान पर ध्यान देना चाहिए।

★ भोजन में पोषक तत्वों की कमी बालों के झड़ने का एक कारण है। इसके लिए भोजन में प्रोटीन की मात्रा बढ़ाना जरूरी है। इसके लिए भोजन में चना, सोयाबीन और राजमा आदि का प्रयोग करें। दूध से बनी चीज भी इसके लिए फायदेमन्द हैं। आइये जाने बाल झड़ना कैसे रोकें,बाल झड़ने से कैसे बचाएं |

बालों का झड़ना रोकने के घरेलू नुस्खे / उपाय : Baal Jhadne se Rokne ke Upay in Hindi

1) दही : दही में थोड़ा बेसन मिला कर घोल बना ले और इससे बालों को धोये। इससे बालो में चमक आयेगी और बालों का गिरना भी बंद होगा।

2) नारियल : मेथी और आंवला के चूर्ण को नारियल के तेल में उबालकर सिर पर लगाने से लाभ मिलता है।

3) मेंहदी : एक कटोरी में 250 एम.एल. सरसों का तेल लें और उसमें 60 ग्राम सूखा और साफ किया हुआ मेंहदी का पत्ते डालकर पत्तियों के पूरा जलने तक उबालें और फिर सूती कपड़े में इस मिश्रण को छान लें। ठंडा होने के बाद हवाबंद जार में इस तेल को डालकर रख दें। नियमित रूप से इस तेल को बालों में लगायें।

5) आंवला : सूखे आंवले को रात को भिगो दें और सुबह इस पानी से बालों को धोंये। इससे बाल मजबूत होते हैं, बालों की प्राकृतिक सुन्दरता बढ़ती है। फरास का जमना ठीक हो जाता है। आंखों और मस्तिष्क को लाभ पहुंचता है। मेंहदी और सूखा आंवला पीसकर पानी में गूंथकर लगाने से बाल काले हो जाते हैं। ( और पढ़ें आंवले के 7 जायकेदार स्वास्थ्य वर्धक व्यंजन   )

6) दालचीनी : जैतून के तेल को हल्का गरम कर ले और इसमें 1 चम्मच शहद और 1 चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाकर एक लेप बना ले और नहाने से 15 मिनट पहले बालों पर लगायें, इस नुस्खे से बाल गिरना बंद हो जायेंगे।

7) मेथी : मेथी के नियमित प्रयोग से बाल मुलायम बनते है बालों को झड़ना भी दूर होता है।
मेथी को बालो में लगाने के लिए रात में एक कप मेथी के दानो को पानी में भिगो दें। प्रात: उसे पीस कर एक पेस्ट बना लें। फिर इस पेस्ट को अपनी बालो की जड़ो में बहुत अच्छी तरह से लगा लें और लगाने के बाद लगभग 30-40 मिनट के लिए छोड़ दें। इतना समय गुजरने के बाद अपने सर को ठन्डे पानी से अच्छी तरह धो लें। इस प्रक्रिया को सप्ताह में 3 बार करें और इसे डेढ़ दो महीने तक करते रहे ।इस प्रयोग को करने से बाल मजबूत और मुलायम बनेगे , बालों का टूटना , गिरना कम होगा एवं बालो की नयी ग्रोथ भी नज़र आएगी । ( और पढ़ें मेथी के अदभुत 124 औषधीय प्रयोग

8) नारियल का दूध : नारियल का दूध में पर्याप्त मात्रा में पोटैशियम, आयरन, विटामिन इ और जरूरी पोषक तत्व होतें हैं जो हमारे बालों के लिये लाभदायक है | ताज़ा नारियल ले के उसे खुरच ले और उसका मिश्रण बना ले|अब इस मिश्रण को निचोड़ के इसमें से नारियल का दूध निकाल ले, और उसे बालो की जड़ो में बहुत अच्छी तरह से लगा लें और फिर इसे १५ से २० मिनट के लिए छोड़ दे|यह आपको चमत्कारिक परिणाम देगा |

10) एलोवेरा : एलोवेरा की पत्ती ले लें और उसमे से जेल(गुदा) निकाल ले | अब इस रस को बालो की जड़ो में बहुत अच्छी तरह से लगा कर 2 से 3 मिनट हलके हाथों से मसाज करे |इसके बाद 30-40 मिनट के लिए छोड़ दे फिर गुनगुने पानी से धो ले | यह जड़ों को मजबूत कर आपके बालों को रेशमी और मुलायम बना देगा |

11) करी पत्ता : मुट्ठीभर करी पत्ता ले कर आधा कप नारियल के तेल में इसे 5 से 7 मिनट के लिए उबाल ले | तेल का तापमान जब सामान्य हो जाए तब उसे अपनी उंगलियो की मदद से बालो की जड़ो में मसाज कर ले | तेल को कम से कम 1 घंटे के लिए रखे और फिर इसे गुनगुने पानी से धो ले |इस नुस्खे से बाल गिरना बंद हो जायेंगे।

12) नीबू : एक गिलास पानी में 2 चम्मच चाय की पत्ती डालकर उसे उबाल लें और उसे ठंडा होने दें। ठंडा होने के बाद उसे छानकर उसमें नीबू निचोड़ लें। बालों को अच्छी तरह साफ कर लेने के बाद इस पानी से बालों को धोयें। इसके बाद साफ पानी से बालों को धोयें। इस तरह बालों को धोने से बाल चमकदार और मुलायम हो जाते हैं और उनका झड़ना भी कम हो जाता है।

(उपाय व नुस्खों को वैद्यकीय सलाहनुसार उपयोग करें)

Leave a Comment