दिव्य औषधि शतावरी के फायदे | Shatavari Benefits in Hindi

Shatavari

शतावरी क्या है ? : what is shatavari in hindi आज हम आपको एक झाड़ीनुमा लता के बारे में बताते है , जिसमें फूल मंजरियों में एक से दो इंच लम्बे एक या गुच्छे में …

Read more

शरद पूर्णिमा विशेष

sarad-poonam

चावल, दूध और मिश्री की खीर बनायें । खीर बनाते समय उसमें कुछ समय के लिए थोड़ा सोना या चाँदी मिला दें । खीर को कम से कम 2 घंटे के लिए चन्द्रमा के प्रकाश …

Read more

रोग प्रतिकारक शक्तिवर्धक अनुभूत प्रयोग

Boiling-milk

गाय के दूध की जितनी मात्रा हो उससे आधी मात्रा में पानी मिलाकर उसमे सोने की वस्तु (शुद्ध सोने का साफ़ सुथरा गहना चलेगा) डालकर धीमी आंच पर पानी जल जाने तक उबालें l देशी …

Read more

रोग व पापनाशक पंचगव्य

panchagavya-ghrita ke fayde in hindi

पंचगव्य शरीर के साथ मन व बुद्धि को भी शुद्ध, सबल व पवित्र बनाता है | शरीर में संचित हुए रोगकारक तत्वों का उच्चाटन कर सम्भावित गम्भीर रोगों से रक्षा करने की क्षमता इसमें निहित …

Read more

गुर्दे के रोग(Kidney diseases)

Kidney

गुर्दे की कार्यक्षमता घटने से मूत्रोत्पत्ति कम हो जाती है | शरीर पर सूजन आ जाती है | एक-चोथाई कप मूली के पत्तों का रस सुबह खाली पेट व शाम को ४ बजे पियें | …

Read more

गर्मियों में वरदानस्वरुप हरड रसायन योग

गर्मियों में वरदानस्वरुप हरड रसायन योग

लाभ : यह सरल योग ग्रीष्म ऋतू (२० अप्रैल से २० जून’ २०१४  तक) में स्वास्थ्य-रक्षा हेतु परम लाभदायी हैं | यह त्रिदोश्शामक व शरीर को शुद्ध करनेवाला उत्तम रसायन योग है | इसके सेवन …

Read more

पीपल चूर्ण

peepal

पीपल के पेड़ की लकड़ी का मेधाशक्तिवर्धक प्रमाण शास्त्रों में वर्णित है। पीपल की पुरानी, सूखी लकड़ी से बने गिलास में रखे पानी को पीने से अथवा पीपल की लकड़ी का चूर्ण पानी भिगोकर छना …

Read more

देसी गाय के घी के अद्भुत लाभ | Desi Gay ke Ghee ke Labh (fayde)

देसी गाय के घी के अद्भुत लाभ | Desi Gay ke Ghee ke Labh (fayde)

गाय के घी के फायदे : Gay ke Ghee ke Fayde ☛ गाय का घी गुणों में मधुर, शीतल, स्निग्ध, गुरु (पचने में भारी) एवं हृदय के लिए सदा पथ्य, श्रेयस्कर एवं प्रियकर होता है। …

Read more

आयुर्वेदः निर्दोष एवं उत्कृष्ट चिकित्सा-पद्धति

ayurveda

आयुर्वेद एक निर्दोष चिकित्सा पद्धति है। इस चिकित्सा पद्धति से रोगों का पूर्ण उन्मूलन होता है और इसकी कोई भी औषध दुष्प्रभाव (साईड इफेक्ट) उत्पन्न नहीं करती। आयुर्वेद में अंतरात्मा में बैठकर समाधिदशा में खोजी …

Read more