शरीर में विटामिन बी 6 किस लिए जरूरी हैं |Vitamin B6 Benefits and Side Effects in Hindi

विटामिन बी 6 (पाइरीडॉक्सिन /Pyridoxine) क्या है ? : Vitamin B6 in Hindi

पाइरीडाक्सिन को विटामिन बी 6 भी कहते हैं। यह एक रंगहीन और स्वाद में कसैला पदार्थ है जो जल में घुलनशील है। प्रकाश की उपस्थिति में अथवा क्षार के सम्पर्क में आने पर यह नष्ट हो जाता है जबकि ताप व अम्ल की उपस्थिति में यह स्थिर रहता है।

यह विटामिन बी 6 अनेक रूपों में पाया जाता है जिनमें पाइरीडॉक्सल, पाइरीडॉक्सामिन और पाइरीडॉक्सिन प्रमुख हैं। इनमें पाइरीडॉक्सिन, भोजन पकाने की प्रक्रियाओं में और संग्रह किये जाने पर अधिक स्थिर स्थिति में रहता है। विटामिन बी 6 यानी पाइरीडॉक्सिन (Pyridoxine) के सभी प्रकार के रूप पाइरीडॉक्सल फास्फेट के रूप में बदल कर सक्रिय रूप धारण करते हैं।

पाचन एवं अवशोषण (Digestion & Absorption) :

पानी में घुलनशीलता के गुण के कारण, इस विटामिन का अवशोषण सुगमता से हो जाता है। इसका सक्रिय रूप पाइरीडॉक्सल फास्फेट है जो इसके तीनों प्रकारों में से किसी में भी, आसानी से परिवर्तित हो जाता है।

विटामिन बी 6 के फायदे व उपयोगिता : Vitamin B6 Uses Benefits in Hindi

अन्य पोषक तत्वों की भांति यह विटामिन बी 6 भी शरीर की वृद्धि व विकास के लिए ज़रूरी है। जिस प्रकार अन्य विटामिन बी काम्पलेक्स, ‘को-एंजाइम’ के रूप में, शरीर में उपयोगी होते हैं, उसी प्रकार विटामिन बी 6 भी अपने सक्रिय रूप में ‘को-एंजाइम’ बनाता है जो कि प्रोटीन के चयापचय की प्रक्रिया के नियन्त्रण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके प्रमुख कार्य इस प्रकार हैं –

(1) नये अमीनो अम्ल का निर्माण करना, विशेष रूप से अनावश्यक अमीनो अम्ल (जिनको आहार में लेना आवश्यक नहीं होता, ये शरीर में निर्मित हो जाते हैं) का निर्माण करना।
(2) ट्रिटोफेन अमीनो अम्ल से नायसिन का निर्माण करना।
(3) लाल रक्त कणिकाओं में उपस्थित हिमोग्लोबिन, जो कि शरीर में आक्सीजन का परिवहन करता है, दो तत्वों से मिल कर बनता है- (1) हीम और (2) ग्लोबिन । यह को-एंजाइम ग्लोबिन भाग को बनाने में सहायक होता है।
(4) पाइरीडॉक्सिन से बने को-एंजाइम, काबोज व वसा के चयापचय की क्रिया में भाग ले कर, ऊर्जा उत्पन्न करने में सहायक होते हैं।

( और पढ़े – विटामिन ए के स्रोत, फायदे और कमी से रोग )

विटामिन बी 6 प्राप्ति के स्रोत व साधन : Vitamin B6 Rich Foods Vegetarian in Hindi

यह विटामिन बी 6 गेहूं में, खास कर गेहूं के अंकुर, अंकुरित अनाज, साबुत अनाज, सोयाबीन, मूंगफली, दूध आदि में पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। कन्दमूल, सब्जियों और फलों में इसकी कम मात्रा उपलब्ध होती है।

विटामिन बी 6 दैनिक आवश्यकता : Vitamin B6 Daily Requirement Dose in Hindi

विभिन्न शोध अध्ययनों से पता चलता है कि भोजन द्वारा 1.25 से 2 मि.ग्रा. पाइरीडॉक्सिन (विटामिन बी 6) प्रतिदिन ग्रहण किये जाने पर इसकी कमी नहीं होती। विभिन्न उम्र में, इस विटामिन की प्रतिदिन की दैनिक आवश्यकता इस प्रकार है –

आवश्यक दैनिक मात्रा –

आयु समूह पाइरीडॉक्सिन मि.ग्रा./दिन
प्रौढ़ावस्था 2.0
गर्भावस्था 2.5
शिशु को, दुग्धपान की अवस्था में 2.5
शैशवावस्था पाइरीडॉक्सिन मि.ग्रा./दिन
प्रारम्भ के 6 माह .1
6 माह से 12 माह .4
बाल्यावस्था पाइरीडॉक्सिन मि.ग्रा./दिन
1 से 6 वर्ष .9
6 से 12 वर्ष 1.6
किशोरावस्था 2.0 मि.ग्रा./दिन

विटामिन बी 6 की कमी से होने वाले रोग : Vitamin B6 Deficiency and Diseases in Hindi

इस विटामिन की कमी से अनिद्रा, भूख में कमी, जी मिचलाना, उलटियां होना आदि व्याधियां होती हैं। बच्चों में इसकी कमी से, उनके वृद्धि व विकास पर बुरा असर पड़ता है। रक्ताल्पता, चक्कर आना जैसी स्थितियां बनती हैं।

भोज्य पदार्थों में विटामिन बी 6 की मात्रा : Vitamin B6 Foods in Hindi

समृद्ध स्त्रोत / प्रति 100 ग्रा. विटामिन बी 6 ( मि. ग्रा.)
सूखा खमीर 0.7 – 4.0
चावल की ऊपरी पर्त 0.6 – 0.8
गेहूं की भूसी / चापड़ 1.1 – 1.3
गेहूं के अंकुर 0.8 – 1.4
अच्छे स्त्रोत / प्रति 100 ग्रा. विटामिन बी 6 ( मि. ग्रा. )
सम्पूर्ण अनाज 0.3 – 0.5
फलियां 0.2 – 0.5
गिरी और दालें 0.3 – 0.6
दुग्ध चूर्ण 0.4 – 0.7
ताज़ा दूध 0.6 – 0.12
पत्तेदार सब्जियां 0.2 – 0.3
साधारण स्त्रोत / प्रति 100 ग्रा. विटामिन बी 6 ( मि. ग्रा. )
फल 0.02 – 0.06
सब्जियां 0.02 – 0.07
परिष्कृत अनाज 0.04 – 0.10

( और पढ़े – विटामिन के प्रकार और फायदे )

विटामिन बी 6 के नुकसान : Vitamin B6 Side Effects in Hindi

✦ अनुशंसित खुराक में उपयोग किए जाने पर विटामिन बी 6 का आमतौर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है।
✦ लंबे समय तक अधिक मात्रा में विटामिन बी 6 लेने पर पाइरिडोक्सीन दुष्प्रभाव पैदा कर सकता है। जैसे -सिरदर्द, मतली, उनींदापन, हाथ पैरों में झुनझुनी आदी ।