पूज्य बापू जी का संदेश

ऋषि प्रसाद सेवा करने वाले कर्मयोगियों के नाम पूज्य बापू जी का संदेशधन्या माता पिता धन्यो गोत्रं धन्यं कुलोद्भवः। धन्या च वसुधा देवि यत्र स्याद् गुरुभक्तता।।हे पार्वती ! जिसके अंदर गुरुभक्ति हो उसकी माता धन्य है, उसका पिता धन्य है, उसका वंश धन्य है, उसके वंश में जन्म लेने वाले धन्य हैं, समग्र धरती माता धन्य है।""ऋषि प्रसाद एवं ऋषि दर्शन की सेवा गुरुसेवा, समाजसेवा, राष्ट्रसेवा, संस्कृति सेवा, विश्वसेवा, अपनी और अपने कुल की भी सेवा है।"पूज्य बापू जी

यह अपने-आपमें बड़ी भारी सेवा है

जो गुरु की सेवा करता है वह वास्तव में अपनी ही सेवा करता है। ऋषि प्रसाद की सेवा ने भाग्य बदल दिया
Fugiat dapibus, tellus ac cursus commodo, mauris sit condim eser ntumsi nibh, uum a justo vitaes amet risus amets un. Posi sectetut amet fermntum orem ipsum quia dolor sit amet, consectetur, adipisci velit, sed quia nons.
Fugiat dapibus, tellus ac cursus commodo, mauris sit condim eser ntumsi nibh, uum a justo vitaes amet risus amets un. Posi sectetut amet fermntum orem ipsum quia dolor sit amet, consectetur, adipisci velit, sed quia nons.
Fugiat dapibus, tellus ac cursus commodo, mauris sit condim eser ntumsi nibh, uum a justo vitaes amet risus amets un. Posi sectetut amet fermntum orem ipsum quia dolor sit amet, consectetur, adipisci velit, sed quia nons.

कील मुंहासे दूर करें सिर्फ 7 दिनों में यह रहे रामबाण घरेलु उपचार | Surprising Home Remedies for Acne

Home » Blog » Disease diagnostics » कील मुंहासे दूर करें सिर्फ 7 दिनों में यह रहे रामबाण घरेलु उपचार | Surprising Home Remedies for Acne

कील मुंहासे दूर करें सिर्फ 7 दिनों में यह रहे रामबाण घरेलु उपचार | Surprising Home Remedies for Acne

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

लड़के और लड़कियों के गालों पर जो कील या मवाद भरे छोटे-छोटे दाने निकल आते हैं उन्हे ही मुंहासे कहा जाता है।

क्यों होते है चेहरे पर कील – मुहांसे (Why Happend Face in pimples and acne):

Kyo Hote Hai Keel Muhashe :

*. हार्मोन में गड़बड़ी का हो जाना या हारमोंस में सही ताल – मेल नहीं होना.

*. अधिक तले भूने व मिर्च मसाले युक्त भोजन के सेवन से

*. अपने त्वचा की सफाई न करना.

*. पेट की खराबी होना या पेट सही साफ़ न करना.

*. चेहरे पर क्रीम तेल या चिकनाई युक्त पदार्थ का इस्तेमाल करना.

*. चेहरे की त्वचा का बहुत अधिक तेलीय (Oily ) होना.

*. अत्यधिक मात्रा में वसायुक्त भोजन करना.

*. कई लोगो के चेहरे पर फोड़े – फुंसियों का होना वंशानुगत समस्या भी होती है.

*. सूरज की किरणों के सामने अधिक रहना.
आइये जाने कील मुंहासे (पिम्पल Pimples) दूर करने के आयुर्वेदिक घरेलू उपचार | Effective Home Remedies to remove pimples in hindi

उपचार :

पहला प्रयोगः जीरे या लौंग को पानी में अथवा जायफल को दूध में घिसकर लेप करने से खीलें मिटती हैं।

दूसरा प्रयोगः जामुन की गुठली को पानी में घिसकर लगाने से मुँहासों में लाभ होता है।

तीसरा प्रयोगः हरे पुदीने की चटनी पीसकर चेहरे पर सोते समय लेप करने से चेहरे के मुँहासे, फुन्सियाँ समाप्त हो जायेंगी।

खीलें होने पर तीखे, गर्म एवं चटपटे पदार्थों का सेवन बन्द कर दें।

विभिन्न औषधियों से उपचार-

1. कुलिंजन : कुलिंजन से बने तेल को मुंहासे में लगाने से मुंहासे ठीक हो जाते हैं।

2. पपीता : पपीते का दूध गालों और चेहरे पर लगाने से मुंहासे ठीक हो जाते है।

3. जायफल : रोजाना रात को जायफल को कच्चे दूध में मिलाकर गाढ़ा सा लेप बना लें। रात को सोते समय इस लेप को चेहरे पर लगा लें और सुबह उठने पर गर्म पानी से धो लें। इससे थोड़े दिनों में मुंहासे ठीक होकर चेहरा बिल्कुल साफ हो जाता है।

4. उड़द : उड़द और मसूर की बिना छिलके की दाल को सुबह दूध में भिगो दें। शाम को बारीक पीसकर उसमे नींबू के रस की थोड़ी बूंदे और शहद की थोड़ी बूंदे डालकर अच्छी तरह मिला लें और लेप बना लें। फिर इस लेप को चेहरे पर लगा लें। सुबह इसे गर्म पानी से धो लें। ऐसा लगातार कुछ दिनों तक करने से चेहरे के मुंहासे और दाग-धब्बे दूर हो जाते हैं और चेहरे में नयी चमक पैदा हो जाती है।

5. मौसमी : मौसमी के छिलकों को पीसकर मुंहासों पर लगाने से लाभ होता है।

6. मैनफल : मैनफल के फल को पीसकर मुंहासों में लगाने से लाभ होता है।

7. तुलसी : तुलसी के पत्तों के रस मे नींबू का रस मिलाकर रोजाना चेहरे पर लगाने से लाभ होता है।

8. कंटकरंज : कंटकरंज के बीज को पीसकर निकाला हुआ तेल या कंटकरंज के बीज को पकाकर बनाया हुआ तेल चेहरे पर लगाने से मुंहासे ठीक हो जाते हैं।

9. हल्दी : 2 से 6 ग्राम हल्दी को रोजाना सुबह और शाम खाने से चेहरा चमक उठता है।

10. उन्नाव : 20 से 40 मिलीलीटर उन्नाव के शर्बत को पानी में मिलाकर रोजाना 2 से 3 बार पीने से मुहांसे दूर हो जाते हैं और त्वचा का रंग साफ होकर चेहरा चमकदार हो जाता है।

11. दालचीनी :

3 बड़े चम्मच शहद में 1 चम्मच दालचीनी पाऊडर और कुछ बूंदे नींबू के रस की डालकर लेप बनाकर चेहरे पर लगाएं और एक घंटे बाद धोएं। इससे मुंहासे (Pimples)ठीक हो जाएंगे।

चौथाई चम्मच दालचीनी में नींबू के रस कीं कुछ बूंदे डालकर लेप बनाकर चेहरे पर लगाएं और एक घंटे बाद धो लें। इससे मुंहासे(khil muhaase) जल्दी ठीक हो जाते हैं।

12. दूध : दूध में लाल चंदन को घिसकर प्रतिदिन 3 बार चेहरे पर लगाने से चेहरे के कील-मुंहासे नष्ट हो जाते हैं।

13. हिंगोट – हिंगोट के गूदे को ठंड़े पानी में घिसकर मुंह पर लगाने से मुंहासे दूर हो जाते हैं।

14. आक : हल्दी में आक के दूध को मिलाकर कील-मुंहासों पर लेप करने से कुछ दिनों में ही चेहरे के कील मुंहासे Pimples)दूर हो जाते हैं और चेहरे पर चमक आ जाती है।

15. धनिया : थोडे़ से अदरक के रस में खीरे का थोड़ा सा रस और धनिया का पानी मिलाकर चेहरे को धो लें। फिर 2 घंटे बाद स्वच्छ पानी से मुंह को धो डालें। ऐसा करने से कील-मुंहासों का निकलना बन्द हो जाता हैं।

16. जामुन – जामुन की गुठली को घिसकर मुंहासों पर लगाने से मुंहासें दूर हो जाते हैं।

17. दूधी : चेहरे के मुंहासों और दाद पर दूधी का दूध लगाने से लाभ होता है।

18. ककड़ी : ककड़ी का रस रंग को साफ करता है। चेहरे पर दाग, ताम्बे के रंग के धब्बे और मुंहासे हो तो रोजाना ककड़ी का 1 गिलास रस पीना लाभकारी रहता है।

19. कालीमिर्च : 20 कालीमिर्च के दानों को गुलाबजल में पीसकर रात को सोते समय चेहरे पर लगाएं और सुबह गर्म पानी से धोएं। इससे कुछ ही समय में कील-मुंहासें, झुर्रियां आदि साफ होकर चेहरा चमकने लगता है।

20. कलौंजी : सिरके में कलौंजी को पीसकर लेप बनाएं और उसे रोजाना सोते समय पूरे चेहरे पर मलें। सुबह पानी में साफ कर लें। इस प्रयोग को कुछ दिनों तक लगातार करने से चेहरे पर बहुत अच्छा प्रभाव होता है।

21. संतरा : संतरे के सूखे छिलकों को पीसकर चेहरे पर मलने से मुंहासे(khil muhaase) दूर हो जाते हैं।

22. अजवाइन : 2 चम्मच अजवायन को 4 चम्मच दही में पीसकर रात में सोते समय पूरे चेहरे पर मलकर लगाएं और सुबह गर्म पानी से साफ कर लें। इससे कुछ ही समय में चेहरे के कील-मुंहासे (Pimples)दूर हो जाते हैं।

23. कपूर : 3 चम्मच बेसन, चौथाई हल्दी, चुटकी भर कपूर और नींबू के रस को एकसाथ मिलाकर लेप बनाकर चेहरे पर लगा लें। सूखने के बाद इसे ठंड़े पानी से धोने से चेहरे के मुंहासे ठीक हो जाते हैं।

24. करेला : लगभग 1 ग्राम का चौथा भाग करेले का रस सुबह के समय खाली पेट पीने से मुंहासें खत्म हो जाते हैं।

25. नींबू :

नींबू के रस को चेहरे पर मलने से कील-मुंहासे ठीक हो जाते हैं।

नींबू, तुलसी और काली कसौंदी के रस को बराबर मात्रा में मिलाकर धूप में रखें। इसके गाढ़ा हो जाने पर चेहरे पर लगाने से मुंहासों(khil muhaase) में लाभ मिलता है।

नींबू के रस को 4 गुना ग्लिसरीन में मिलाकर चेहरे पर रगड़ने से कील-मुंहासे नष्ट हो जाते हैं और चेहरा सुन्दर बन जाता है। इसका प्रयोग पूरे शरीर पर करने से त्वचा कोमल और चिकनी हो जाती है।
1 चम्मच गर्म दूध पर जमने वाली मलाई पर नींबू को निचोड़कर चेहरे पर मलने से चेहरे के मुंहासे दूर हो जाते हैं।

26. कुलंजन – कुलंजन की जड़ को पानी में घिसकर दिन में 2 से 3 बार पर लगाने से मुंहासे व झाईयां खत्म हो जाते हैं।

27. नीम :

नीम के पत्ते, अनार का छिलका, लोध्र और हरड़ आदि को बराबर मात्रा में लेकर दूध के साथ पीसकर रोजाना चेहरे पर लेप को लगाने से चेहरा निखर उठता है।
नीम के पत्ते और छाल का रस रोजाना रात को चेहरे पर लगाने से मुंहासे पूरी तरह से ठीक हो जाते हैं।
नीम की छाल के बिना नीम की लकड़ी को पानी के साथ चंदन की तरह घिसकर मुंहासों पर 7 दिनों तक लगातार लगाने से मुंहासें पूरी तरह से समाप्त हो जाते हैं।
नीम की जड़ को पानी में घिसकर लगाने से कील-मुंहासे मिट जाते हैं और चेहरा सुन्दर बन जाता है।

28. लीची – लोध्र की छाल, धनिये का पाऊडर और वच को बराबर मात्रा में मिलाकर पानी के साथ पीसकर लेप बनाकर सुबह नहाने से पहले और रात को सोने से पहले चेहरे पर लगा लें। इससे कील-मुंहासे तो दूर होगें ही साथ ही चेहरे की चमक भी बढ़ेगी।

29. अनार : अनार के बीजों का लेप बनाकर मुंहासों पर लगाने से मुंहासे नष्ट हो जाते हैं।

30. नारियल : नारियल के पानी से रोजाना दिन में 2 बार चेहरे को धोने से चेहरे की झुर्रियां और सलवटें दूर हो जाती है।

31. दूब : दूब (घास) पर पड़ी ओंस को चेहरे पर लगाने से मुंहासे निकलना बन्द हो जाते हैं।

32. अंजीर : कच्चे अंजीर का दूध मुंहासों पर 3 बार लगाने से मुंहासे समाप्त हो जाते हैं।

31. बकुची : बकुची के बीजों का तेल सुबह-शाम नियमित रूप से सेवन करने से बहुत लाभ प्राप्त होता है।

32. तिल :

तिलों की छाल और सिरके को एकसाथ पीसकर मुंह पर लगाने से मुंहासे ठीक हो जाते हैं।
सांप की केंचुली को जलाकर राख करके तिल के तेल में मिलाकर लगाने से पित्त के कारण शरीर पर होने वाले फोड़े-फुन्सियां मिट जाती है।

33. अशोक : अशोक की छाल का काढ़ा उबाल लें। गाढ़ा होने पर इसे ठंड़ा करके, इसमें बराबर की मात्रा में सरसों का तेल मिला लें। इसे मुंहासों, फोड़े-फुंसियों पर लगाना बहुत ही लाभकारी रहता है।

सावधानी : कील-मुंहासे वैसे तो उम्र के अनुसार निकलते हैं पर ये शरीर के अन्दर की गर्मी के कारण अधिक निकलते हैं। कभी-कभी इनमें पस भी पड़ जाती है। अत: मुंहासों( Acne ) को फोड़ना नहीं चाहिए। वरना चेहरे पर दाग बनने का भय रहता है।

मुहासो से छुटकारा पाने के लिए कुछ ज़रूरी बाते (Tips For Preventing Pimple Break Outs)

*. भरपूर मात्रा में पानी पिए (Bharpur maatra me pani piye) :

हमारे शरीर को जिस तरह से भोजन की जरुरत होती है ठीक उसी प्रकार से हमारे शरीर को पानी की भी आवश्यकता होती है. पानी हमारे शरीर और त्वचा को स्वस्थ बनाये रखता है.

प्रातः काल बासी मुह सवा लीटर पानी पीने का नियम बना ले.ऐसा करने पर सात दिन होते -होते ही चेहरे के मुँहासे( Acne ), फुन्सियाँ समाप्त होने लगते है |
विशेष : अच्युताय हरिओम अलोवेरा जेल के प्रयोग से कील-मुंहासे तो दूर होगें ही साथ ही चेहरे की चमक भी बढ़ेगी । रात में सोते समय अच्युताय हरिओम त्रिफला चूर्ण का सेवन कील-मुंहासे में विशेष लाभ देता है | अच्युताय हरिओम गुलकंद अच्युताय हरिओम लिवर टोनिक सिरप का सेवन से मुंहासे समाप्त हो जाते हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Leave a Reply