आँखों के सौंदर्य प्रसाधन के इस्तेमाल में बरतें ये 14 सावधानियां

यदि आप नियमित रूप से आँखों के मेकअप का इस्तेमाल करते हैं तो आपने शायद सामान्य सुरक्षा टिप्स को सुना होगा। दूसरों के साथ अपनी आँखों के सौंदर्य प्रसाधन इस्तेमाल न करें, हर तीन महीने में मेकअप के सामान को बदलें। लेकिन सभी उपयोगकर्ता इन नियमों का पालन नहीं करते हैं। आखिरकार सौंदर्य प्रसाधन महँगे होते हैं और पूरा इस्तेमाल करने में कई वर्ष लग जाते हैं, यही कारण है कि बहुत से लोग संभावित आँखों के मुद्दे होने के बावजूद अनमोल सामग्री को बरबाद नहीं करना चाहते हैं।

इसके साथ ही असुरक्षित सौंदर्य प्रसाधन खरीदने से समस्या निर्माण हो सकती है। यह कहना मुश्किल होता है कि काजल जिसे लगाने पर बहुत अच्छा लगता है लेकिन इस्तेमाल के बाद वह जलन पैदा कर सकती है।

सौंदर्य प्रसाधन कितना महँगा है या यह कितना अच्छा दिखता है यह सब बेकार है अगर इसके उपयोग से खुजली, जलन के साथ आती है और जलन या इन्फेक्शन के कारण दृष्टि बिगड़ती है। इन समस्याओं से बचने के लिए एफडीए ने कुछ दिशा निर्देश दिए हैं कि कैसे सुरक्षित रहें और उसी समय अच्छे भी दिखें।

( और पढ़े – सौंदर्य प्रसाधन के उपयोग से पहले जान लीजिए ये खास बातें )

आँखों के शृंगार में बरतें सावधानी :

1) यदि कोई नेत्र सौंदर्य प्रसाधन जलन पैदा करता है तो उसका उपयोग तुरंत बंद करें। यदि जलन बनती रहती है तो डॉक्टर को दिखाएँ।

2) अगर आपके आँखों में इन्फेक्शन है या सूजी हुई हैं तो आँखों के सौंदर्य प्रसाधनों का उपयोग करने से बचें। जब तक आँखें ठीक नहीं होती तब तक प्रतीक्षा करें।

3) उचित रूप से उपयोग किए जाने पर अधिकतर आँखों के सौंदर्य प्रसाधन सुरक्षित होते हैं। हालाँकि इन्फेक्शन का खतरा सौंदर्य प्रसाधनों से चोट लगने और अनुचित रंग योजक का उपयोग करने के बारे में सावधान रहना महत्वपूर्ण है।

4) आपके हाथों में जीवाणु हो सकते हैं। अगर आप हाथों को आँखों पर रखते हैं तो इन्फेक्शन होने का खतरा बन सकता है इसलिए किसी भी प्रकार के नेत्र सौंदर्य प्रसाधन लगाने से पहले अपने हाथ धोएँ।

5) सुनिश्चित करें कि आँखों के लिए उपयोग किया जानेवाला उपकरण साफ होना चाहिए।

6) अपने सौंदर्य प्रसाधन को किसी और को इस्तेमाल के लिए न दें क्योंकि अन्य व्यक्ति के जीवाणु
आपकी आँखों के लिए खतरनाक हो सकते हैं।

7) सौंदर्य प्रसाधन को धूल या मिट्टी से दूषित होने से बचाएँ।

8) आँखों के सौंदर्य प्रसाधनों के लिए पुराने पात्रों का उपयोग न करें। खरीदने के तीन महीने बाद काजल, मस्कारा को त्याग दें।

9) सूखे काजल, मस्कारा को फेंक दें। इसे गीला करने के लिए लार या पानी का उपयोग न करें। क्योंकि मुँह के कीटाणु आँखों में इन्फेक्शन का कारण बन सकते हैं। पानी का उपयोग करने से जीवाणु बढ़ सकते हैं और प्रिज़र्वटिव को पतला करेगा, जो माइक्रोबियल विकास से बचाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

10) सौंदर्य प्रसाधनों को 85डिग्री सेल्सियस से ऊपर के तापमान में संग्रह न करें। संग्रह करना ही है तो फ्रिज में रखें। लेकिन फ्रिज में रखते समय भी कैरीबैग या किसी डिब्बे में पैक करके सुरक्षित रखें।

11) आँखों के सौंदर्य प्रसाधन को लगाते या हटाते समय सावधान रहें, नेत्रगोलक या अन्य संवेदनशील क्षेत्र को खरोंच न पहुँचे। चलते हुए वाहन में कभी भी आँखों के सौंदर्य प्रसाधनों को लगाएँ या हटाएँ नहीं।

12) अपनी आँखों के पास किसी भी सौंदर्य प्रसाधन का उपयोग न करें जब तक कि आप विशेष रूप से उपयोग करने का इरादा न रखते हो। उदाहरण के लिए आइ लाइनर के रूप में होठ लाइनर का उपयोग न करें। आप अपने मुँह के जीवाणु से अपनी आँखों को खतरे में डाल सकते हैं या रंग योजक जो आँख के क्षेत्र में इस्तेमाल करने के लिए नहीं है।

13) आँख के क्षेत्र में उपयोग करने के लिए रंग योजक से बचें जैसे कि स्थायी पलक टिंट्स और सुरमा।

14) सुरमा को बच्चों से दूर रखने के लिए विशेष रूप से सावधान रहें, चूँकि खबरों के अनुसार इसमें लेड नाम का जहर होता है।

1 thought on “आँखों के सौंदर्य प्रसाधन के इस्तेमाल में बरतें ये 14 सावधानियां”

Leave a Comment