लिवर की सफाई (डिटॉक्स) कैसे करें ? – How to Clean (Detox) Liver in Hindi

लिवर कई ऐसे कार्यों को करता है, जिससे आपके शरीर को स्वस्थ बनाए रखने में मदद मिलती है। लिवर उन सभी भोज्य पदार्थों के पोषक तत्त्व को अलग करता है जिन्हें हम खाते हैं, पीते हैं और त्वचा के माध्यम से अवशोषित करते हैं। इसलिए, आप अकसर कई हानिकारक पदार्थों के संपर्क में आ जाते हैं।

लिवर की खराब कार्यप्रणाली को इंगित करनेवाले कुछ संकेतों में एलर्जी, कुपोषण, उच्च कोलेस्ट्रोल और ट्राइग्लिसराइड्स और यहाँ तक कि पित्त पथरी भी शामिल है। लिवर डिटॉक्सीफाइंग से इन समस्याओं को कम करने में मदद मिलती है। स्वास्थ्यप्रद भोजन और दवाइयों की दुकानों में लिवर डिटॉक्सीफाइंग के कुछ उत्पादन उपलब्ध होते हैं, लेकिन आप केवल कुछ सामग्री के साथ इन्हें घर पर भी बना सकते हैं। लिवर डिटॉक्सीफाइंग उत्पादन बनाने के कुछ तरीके यहाँ दिए गए हैं।

( और पढ़े – लिवर को स्वस्थ और साफ रखने के लिए 12 सर्वश्रेष्ठ आहार )

लीवर को साफ करने के आसान घरेलू उपाय (Liver Detox Home Remedy in Hindi)

लिवर को साफ करने के तरीके निम्नलिखित है –

पहली विधि – चकोतरा और सेंधा नमक से लिवर को डिटॉक्स करने के उपाय

इस डिटॉक्सिफायर के लाभों को समझें –

24 घंटे की इस डिटॉक्स प्रक्रिया में लिवर से विषाक्त पदार्थों को निकालने और पित्ताशय से पित्ताशय की पथरी को निकालने के लिए बनाया गया है।
यह लोगों को पुराने मुँहासों, संक्रमण और आँत में छेद से जुड़े लक्षणों जैसी समस्याओं को कम करने और ठीक करने में मदद करता है।

सामग्री –

इस शुद्धिकरण को करने के लिए, आपको केवल सेंधा नमक, शुद्ध जैतून का तेल और एक बड़े आकार के चकोतरा की आवश्यकता होगी।
चकोतरा संतरे व नींबू की प्रजाति का एक फल होता है। अगर यह फल नहीं मिलता है तो इस विधि में आप संतरा या नींबू का इस्तेमाल कर सकते हैं। अपने शरीर को डिटॉक्स प्रक्रिया के लिए तैयार करें।

प्रारंभिक तैयारी

  • डिटॉक्स के प्रमुख दिनों में, आपको अधीक से अधीक सेब खाने चाहिए और जितना संभव हो उतना सेब का रस पीना चाहिए, यह लिवर को डिटॉक्स के लिए तैयार करता है।
  • डिटॉक्स शुरू करने के आखिरी दिनों में, हर 2 से 3 घंटे में 200 मिलीलीटर सेब का जूस पीने की कोशिश करें।
  • डिटॉक्स की सुबह, हल्का नाश्ता खाएँ जिसमें वसा न हो। फल के साथ पौष्टिक स्मूथी या कुछ साबुत अनाज़, दो अच्छे विकल्प हो सकते है।

नमक का मिश्रण तैयार करें और सेवन करें –

  • डिटॉक्स के दिन दोपहर 2 बजे तक 3 कप पानी में 4 चम्मच सेंधा नमक मिलाएँ। नमक मिश्रण को एक बड़े जार या जग में डालें और फ्रिज में ठंडा होने के लिए छोड़ दें।
  • दोपहर 2 बजे के बाद किसी प्रकार का भोजन न लें।
  • शाम के छः बजे तक नमक के ¾ कप मिश्रण को पी लें। यदि आपको इसका स्वाद खराब लगता है तो आप इसमें थोड़ा सा विटामिन सी का चूर्ण मिला सकते हैं।
  • इसके बाद रात को 8 बजे, ¾ कप नमक मिश्रण को पिएँ।

चकोतरा मिश्रण तैयार करें और सेवन करें (liver detox juice in hindi) –

  • रात को 9.45 बजे के करीब, एक बड़ा चकोतरा का रस निकालें (यह कम से कम ½ से ¾ कप रस होना चाहिए) और इसे जार में डालें। ½ कप शुद्ध जैतून का तेल लें, फिर ढक्कन को हटाकर इसे जार में डाल दें और जोर से हिलाते हुए दोनों को मिलाएँ।
  • इस चकोतरा और तेल के मिश्रण को पिएँ (यदि आवश्यक हो तो एक स्ट्रॉ का इस्तेमाल करें)
  • और फिर बिस्तर पर जाकर तुरंत लेट जाएँ, यह डिटॉक्स के लिए सबसे महत्वपूर्ण प्रक्रिया है।
  • दाहिनी तरफ लेटें, साथ ही अपने दाहिने घुटने को अपनी छाती की ओर मोड़ें और सोने की कोशिश करें। डिटॉक्स (शुद्धता) की प्रक्रिया समाप्त करें ।
  • अगली सुबह, जागने पर तुरंत एक और ¾ कप सेंधा नमक का मिश्रण पिएँ, फिर 2 घंटे के बाद बाकी बचा हुआ मिश्रण भी पी लें।
  • अगले 2 घंटे के पश्चात फलों के रस का सेवन करें।
  • फिर उसके दो घंटे बाद ठोस भोजन कर सकते हैं, बस यह सुनिश्चित कर लें कि आप जो भी खा रहे हैं वह हल्का और पौष्टिक हो।

आप एक या उससे अधिक बार मल त्याग कर सकते हैं, जो सुबह लिवर को साफ करेगा। आप अपने मल में गोल, हरे पत्थर देखेंगे। ये पित्त पथरी होती है। आपके मल में पित्ताशय की पथरी होना पूरी तरह से सामान्य है और इसका मतलब है कि डिटॉक्सिफायर ने अच्छी तरह से काम किया है।

दूसरी विधि – सेब के सिरका से लिवर को डिटॉक्स करने का तरीका

इस डिटॉक्सिफायर के लाभों को समझें –

सेब का सिरका लंबे समय से लिवर की सफाई और रक्त शोधन के लिए एक घरेलू उपचार के रूप में उपयोग किया जाता है। लेकिन इसके अलावा, इसमें पाचन को ठीक करने, वज़न घटाने और मुँहासे साफ करने जैसे अन्य लाभों की भी एक लंबी सारणी है।

ध्यान रखें कि यदि सेब के सिरका को संतुलित पौष्टिक आहार के साथ जोड़ा जाए तो यह केवल लिवर डिटॉक्सिफायर के रूप में काम करेगा।

जैविक, अनफिल्टर्ड सेब का सिरका खरीदें –

जैविक, अनफिल्टर्ड सेब का सिरका खरीदना सुनिश्चित करें, क्योंकि इसमें उच्च पोषक तत्व होते हैं।

बोतल से निकालने से पहले गाढ़ी, बहुत ज़्यादा जमी हुई दिखनेवाली नीचे की परत को अच्छी तरह से मिलाएँ, इसे ‘मदर’ के रूप में जाना जाता है और यह सिरका का सबसे पौष्टिक हिस्सा होता है।

रोजाना सेब के सिरका का सेवन करें –

सेब के सिरका का उपयोग आपके लिवर को निरंतर डिटॉक्स करने के लिए किया जा सकता है और इसके लिए किसी उपवास की आवश्यकता नहीं होती है।

आपको केवल 2 से 3 चम्मच सिरका को 1/3 (करीबन 200 मिलीलीटर) पानी के गिलास में मिलाना है और भोजन करने से पहले सेवन करना है या आप 1 या 2 चम्मच सेब का सिरका को पानी के एक बड़े गिलास में मिला सकते हैं और इसे सुबह खाली पेट पी सकते हैं।

( और पढ़े – सिरका क्या होता है इसके फायदे, बनाने की विधि व औषधीय उपयोग )

अन्य तरीकों से सेब के सिरका का उपयोग करें –

सेब के सिरका को अपने आहार में जोड़ने के वैकल्पिक तरीकों में निम्न बातें शामिल हैं :

  • पानी में एक चम्मच सेब के सिरका को डालें और मीठा करने के लिए मिश्री मिलाकर चाय बनाएँ।
  • अलसी के तेल और शहद के साथ सेब के सिरका को मिलाकर सलाद तैयार करें।

(अस्वीकरण : दवा ,उपाय व नुस्खों को वैद्यकीय सलाहनुसार उपयोग करें)

1 thought on “लिवर की सफाई (डिटॉक्स) कैसे करें ? – How to Clean (Detox) Liver in Hindi”

Leave a Comment