चहरे और त्वचा की देखभाल के आसान घरेलू नुस्खे व उपाय

त्वचा की देखभाल :

त्वचा शरीर की ऊपरी परत होने के कारण इस पर मौसम का प्रभाव सबसे पहले पड़ता है एक स्वस्थ शरीर के लिए स्वस्थ त्वचा का होना आवश्यक है। अधिक गर्मियों व सर्दियों या बारिश के मौसम में सबसे जयादा प्रभाव शरीर के बहार की त्वचा पर पड़ता है, क्योंकि त्वचा मौसम को सीधे महसूस करता है। एक स्वस्थ त्वचा के लिए स्वस्थ खानपान, योग, व्यायाम के साथ-साथ अन्य सावधानियों बरतने की भी जरूत है। गर्मियों में चेहरे की त्वचा को सबसे ज्यादा देखभाल की जरूरत पड़ती है, चेहरे की त्वचा नाजुक होने के कारण इस पर गर्मी और प्रदूषण का सबसे जयादा असर पड़ता है।

आज के आधुनिक जीवन में गर्मी और प्रदूषण निरंतर बढ़ता ही जा रहा है, जो एक बड़ी समस्या बनगई है। सूरज की चिलचिलाती गर्मी व प्रदूषण की मार से अच्छी-से-अच्छी त्वचा को भी नुकसान पहुंच जाता है, जिससे त्वचा में झाइयां, काले-भूरे दाग, कील मुंहासे, ब्लैक हैड, घमौरी, पसीने की गंध, त्वचा का लाल होना, त्वचा में जलन, पैर के तलवे में जलन, त्वचा में खुजली जैसी बहुत-सी परेशानियां उत्पन्न होती है।

चिलचिलाती धूप और कठोर यूवी रेडिएशन हमारी त्वचा के लिए काफी हानिकारक होती है। सूर्य की रोशनी में मौजूद पराबैंगनी (Ultraviolet) किरणों से त्वचा पर कई समस्या उत्पन्न होती हैं, इस कारण गर्मियों में त्वचा को विशेष देखभाल की जरूरत होती है। आप को पता होने जाहिए की आप की त्वचा कैसी है या आप किस तरह के त्वचा की देखभाल करना चाहते हो, यदि संवेदनशील त्वचा हो या पहले से त्वचा सम्बन्धी इलाज चल रहा है जो इस तरह की त्वचा को विशेष देखभाल की जरूत पड़ती

सामान्य तौर पर तवचा तीन तरह की होती है- शुषक तवचा, तैलीय तवचा व सामान्य त्वचा।
आधुनिक जीवनशैली में गर्मी और प्रदूषण ही नहीं, बल्कि व्यस्त जीवनचर्या के कारण भी चेहरे को सम्पूर्ण पोषण नहीं मिल पाता। धूम्रपान, उचित नींद की कमी, डिप्रेशन, अन्य स्वास्थ्य समस्या, खान-पान और लगातार बढ़ता प्रदूषण जैसे कई कारणों से भी चेहरे पर दाग, धब्बे, झाइयां, काले-भूरे दाग, कील-मुंहासे, ब्लैक हैड उत्पन्न होती हैं। प्रत्येक मनुष्य अपने जीवन में सुंदर दिखना चाहता है, सौंदर्य प्राप्त करने के लिए कास्मेटिक, दवाइयाँ, महंगे ट्रीटमेंट आदि का प्रयोग करता है। यदि आप भी एक स्वस्थ जीवन के साथ चमकती व सुंदर त्वचा पाना चाहते हो तो यह लेख आपकी मदद करेगा। इस लेख में के महत्वपूर्ण घरेलु नुक्से बताये गए हैं, जो आपको अधिक गर्मियों, सर्दियों व बारिश के मौसम में स्वस्थ व चमकती त्वचा प्रदान करेगी।

जानिए, स्वस्थ त्वचा के घरेलू महत्वपूर्ण उपाय :

१- गर्मियों व बारिश के मौसम में त्वचा को प्रदूषण से अधिक प्रभाव पड़ता है। इस मौसम में पसीना व चिपचिपापन शरीर में मौजूद होता है। इससे बचाने के लिए त्वचा की गहराई से सफाई करनी चाहिए, हल्दी, चंदन अन्य फेशियल स्क्रब का हफ्ते में एक बार प्रयोग करना चाहिए। ऐसा करने से चेहरे पर जमी गंदगी साफ हो जायेगी, साथ ही ठंडे ताजे पानी से चेहरे को अच्छे से धो लें।

२-गर्मियों में सूती कपड़े पहनने से शरीर को गर्मी की मार से बचाया जा सकता है, सूती कपड़ा धुप में गर्म नहीं होता जिस कारण त्वचा पर धुप का असर नहीं होता साथ ही सूती कपडा पसीना सोख लेता है जिससे त्वचा पर नमी बनी रहती है।

३-बारिश के मौसम में प्रत्येक घंटे में त्वचा को साफ पानी से साफ करते रहना चाहिए, ऐसा करने से त्वचा में उपस्थित तेल व गंदगी निकल जाती है, यदि चेहरे पर मुंहासे फुसियां आदि हो तो चेहरे पर गुलाब जल लगाएं, जहाँ भी फोड़े फुसी हुए हो वहाँ पर चंदन और गुलाब जल का पेस्ट लगाए इससे फोड़े-फुसियों में राहत मिलेगी जितना संभव हो इस मौसम में तली हुई चीजों का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।

४-गोरी त्वचा के लिए मजीठ, हल्दी, चिरौंजी का पाउडर लें, इसमें थोड़ा सा शहद, नीबू और गुलाब जल को मिलाकर पेस्ट बना लें। इस लेप को चेहरे, गर्दन, बांहों पर लगाएं और एक घंटे के बाद चेहरा को साफ पानी धो दें, ऐसा करने से चेहरे का रंग निखर जाएगा।

५- आँवला शरीर के लिए बहुत लाभदायक होता है, आँवले का मुरब्बा रोज खाने से दो-तीन महीने में ही रंग निखरने लगता है साथ ही यह गर्मियों में शरीर को ठंडा रखता है।

६- गाजर का जूस आधा गिलास खाली पेट सुबह लेने से एक महीने में रंग निखरने लगता है और शरीर में खून बढ़ता है, जिससे शरीर को शक्ति मिलती है।

७-कब्ज व पेट के गैस के कारण भी चेहरे पर दाग धब्बे हो जाते हैं, इसलिए पेट को हमेशा ठीक रखें, कब्ज न रहने दें इसके लिए अधिक-से-अधिक पानी पीएं और योग और व्यायाम करें, खाने का विशेष ध्यान दें। रोजाना सुबह-शाम का खाना-खाने के बाद थोड़ी मात्रा में सोंफ खाने से खून साफ होने लगता है। और त्वचा की रंगत बदलने लगती है। कब्ज व पेट के गैस में आराम के लिए गुड़, नीबू, केला, बादाम और दही का उपयोग करें।

८-फल और सब्जियां अपने प्राकृतिक रूप से शुद्ध व पोस्टिक होता है, इसमें भरपूर विटामिन और मिनरल भरे होते हैं, जिससे शरीर और त्वचा स्वस्थ होती है और साफ व सुंदर दिखती है। गाजर, फलियाँ, कद्दू , गोभी और लौकी जैसी सबूजियों का सेवन करें। अपने भोजन में केला और तरबूज को जरूर शामिल करें। तरबूज का रस एसिडिटी दूर करने में काफी कारगर है।

९-ड्राई स्किन, यानी रूखी त्वचा में रोम छिद्र खुले नहीं होने के कारण त्वचा में दाग-धब्बे, कालापन, अन्य बीमारियाँ उत्पन्न होती हैं, ऐसे में प्रत्येक सुबह उठते ही चेहरे को अच्छी तरह धोएं, फिर संतरे के छिलकों के पाउडर में थोड़ा-सा कच्चा दूध मिलाकर चेहरे पर लगाएं। दस मिनट बाद हल्के हाथ से मालिश करें और अंत में ठंडे पानी से मुंह को धोएं। ऐसा करने से त्वचा के बंद छिद्र खुल जायेंगे और त्वचा स्वस्थ और सुंदर लगेगी। साथ ही आप दो केले को छीलकर इसको अच्छी तरह पीस लें फिर इस पेस्ट को चेहरे में लगाये इससे भी चेहरे के बंद रोम छिद्र खुल जायें।

१०- प्रत्येक रात्रि सोने से पहले हाथ-पांव और मुंह अच्छी तरह धोएं, शरीर में मौजूद दिन-भर की गंदगी त्वचा पर ना रहे इसके बाद त्वचा पर तेल रहित मॉइस्चराइजर जरूर लगाएं।

११-नीम के पत्ते त्वचा रोगों के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। नीम के पत्तों को पानी में मिलाकर नहाने से खुजली, घमोरियां और अन्य त्वचा संबंधित विकार ठीक हो जाते हैं।

१२-विटामिन डी और प्रोटीन तत्वों से भरपूर दही त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने के लिए उत्तम है। गर्मियों में चेहरे व शरीर की देखभाल के लिए प्रत्येक दिन नाश्ते के साथ एक कप दही लेने से त्वचा स्वस्थ व शरीर एक्टिव रहता है। और शरीर अधिक गर्मी से होनेवाले निर्जलित से भी बचता है। स्वस्थ त्वचा के लिए आप दही को त्वचा पर बाहरी रूप में भी उपयोग कर सकते हैं।

१३-पसीना आने पर चेहरा हल्के से पोछते रहना चाहिए और समय-समय पर साफ पानी से चेहरे को धोना चाहिए, क्योंकि पसीने पर गंदगी चिपकी होती है, जिससे मुंहासे होने की संभावना रहती है।

१४-अत्यंत गर्मी में त्वचा पर सूर्य की अल्ट्रावॉयलेट किरणों और प्रदूषण के कारण काफी दबाव पड़ता है, जिस कारण त्वचा की प्रतिरोधक क्षमता कम होती जाती है, ऐसे में रात्रि को सोते समय चेहरे को अच्छे से साफ करके हल्का विटामिन-सी और विटामिन-ई युक्त क्रीम लगायें ऐसा करने से त्वचा में नमी रहेगी।

१५-चेहरे पर भाप देने से चेहरे में मौजूद गंदगी, मुहासे, कालापन, चेहरे के बंद छिद्र खुल जाते हैं। भाप लेने से त्वचा जवाँ व स्वस्थ रहती है, जिससे चहेरा खिला-खिला व चमकदार रहता है। भाप लेने के तुरंत बाद चेहरे को अच्छे से साफ करके फेशियल सुक्रब लें और धीरे-धीरे चेहरे को मसाज करें, जब तक कि सुक्रब चेहरे पर थोड़ा सा सूख न जाए, फिर इसे साफ कर लें।

१६- अधिक गर्मी में जब भी बाहर निकलें तो अपने त्वचा पर किसी तरह का परफ्यूम या इत्र का उपयोग न करें, ऐसा करने से परफ्यूम या इत्र त्वचा पर रासायनिक प्रतिक्रिया करती है, जिससे त्वचा पर काले चक्कत्ते (दाग) हो सकते हैं।

१७- चन्दन पाउडर और मुल्तानी मिट्टी का फेस पैक बनाकर उससे लगाने से ठंडक महसूस होती है। अतः आप जब भी धुप से घर में आये तो थोड़ी देर बाद इस फेस पैक को लगाएं: आपको इससे जरूर ठंडक मिलेगी।

१८-गर्मियों में चाय जितना हो सके कम पियें। आपके शरीर के लिए चाय नुकसानदायक होती है और गर्मी में तो इसे जितना कम हो सके पिए। चाय कि बजाय आपको ताज़े फलों का जूस पीना चाहिए जिससे आपकी बॉडी हाइड्रेटेड रहेगी और आपको नुकसान भी नहीं पहुंचेगा।

प्राकर्तिक घरेलू लेप बनाने की विधियाँ :

1. आधा (1/2) आलू लें और इसे अच्छे से साफ करके बिना छीलें ही पीस लें, फिर इसका रस निकाल लें। अब इसमें नीबू का रस मिश्रित करें। इन दोनों उत्पादों को मिश्रित करें, इसमें नीबू के रस की मात्रा आलू के रस से आधी होनी चाहिए। अब इस मिश्रण को गले और चेहरे पर रुई की मदद से लगाये, यदि सूख जाये तो फिर ऊपर से दुबारा लगायें, इसे चेहरे पर कम-से-कम 15 मिनट के लिए रहने दें और फिर पानी से धो लें।

2. चिलचिलाती गर्मी में चेहरे को साफ करने तथा ठंडक पहुंचने के लिए कटोरी में थोड़ा हल्दी पाउडर लें उसमें चंदन पाउडर मिलाएं, थोड़ा सा गुलाब जल और दही इस सब को साथ में मिलाकर अच्छे से मिक्स करके इसे अपने मुंह पर लगाए 20 मिनट तक रहने दें, फिर साफ पानी मुंह को साफ करें।

3. पपीता विटामिन का अच्छा स्रोत है, जो कि त्वचा को जवाँ बनाने में मदद करता है जिससे चेहरे की झुर्रियों समाप्त होती है और त्वचा जवाँ रखता है। पपीते को गुलाब जल के साथ मिलकर इस लेप को 20 मिनट तक चेहरे पर लगाएँ ऐसा करने से चहेरा दागमुक्त रहेगी व लम्बे समय तक चमक जाएगी।

4. चंदन पाउडर में 1 चम्मच नीबू और टमाटर का रस मिलाएं और इस पेस्ट को अपने चेहरे और गर्दन में अच्छी तरह से लगाकर थोड़ी देर बाद ठंडे पानी से धो लें ऐसा करने से चेहरे में मौजूद कालापन, दाग-धब्बे (पिंपल), साफ होते हैं और रंग गोरा होता है।

5. थोड़ा सा केसर उसमें दही और क्रीम को मिलकर इस लेप को अपने चेहरे पर लगाएं और जब तक रहने दें ये सूखे ना, फिर साफ पानी से चेहरे हो धोलें इससे चेहरे में चमक और रंग गोरा होगा।

6. मानसून फेस मास्क के लिए 3 चम्मच ऑडस और एक चम्मच शहद मिलाकर दही के साथ मिलाकर मिश्रण तैयार करें इसके अलावा गुलाब जल तथा संतरे का जूस प्रयोग में लाया जा सकता है। इस मिश्रण को आधे घंटे तक चेहरे पर रहने दें, फिर साफ पानी से धोए इस मिश्रण को हफ्ते में दो बार प्रयोग करें।

7. बेसन 2 चम्मच, सरसों का तेल 1 चम्मच और थोड़ा सा दूध मिला कर पेस्ट बना लें। पूरे शरीर पर इस लेप को लगा लें। कुछ देर बाद हाथ से रगड़ कर छुड़ाएं और स्नान करें ऐसा करने से त्वचा में मौजूद कील-मुंहासे, कालापन साफ जाते है, जिससे त्वचा गोरी व मुलायम हो जाएगी।

8. एलोवेरा त्वचा के लिए लाभकारी है। मुंहासे, रूखी त्वचा, झुर्रियाँ, चेहरे के दाग धब्बे, आँखों के काले घेरे (डार्क-सर्कल), चेहरे की चमक तथा त्वचा को ठंडा करने के लिए एलोवेरा के रस और पेस्ट का प्रयोग किया जाता है। गर्मियों में एलोवेरा का प्रयोग फेस पैक के रूप में त्वचा को ठंडा और साफ करने के लिए किया जाता है।

9. मुलेठी प्राकृतिक रूप से हर्बल होती है, जो कि चेहरे में होने वाले मुंहासे, दाग, कालापन आदि सभी तरह की समस्याओं को दूर करने में बहुत ही मदद करती है।

10. चेहरे पर होने वाले मुंहासे, कील, सूखापन, झुरियाँ, कालापन आदि की समस्या होने पर थोड़ा कच्ची हल्दी को बारीक पीसकर उस लेप में चंदन, दही, गुलाब जल, नीम का रस डालकर उस पेस्ट को अच्छी तरह मिलायें, जिससे सारे पोस्टिक तत्व मिल जाएँ। प्रयोग से पहले चेहरे को अच्छे से गुनगुने साफ पानी से धोलें और यह पेस्ट चहरे पर लगाए, याद रखिये की जब अच्छी तरह पेस्ट चहरे सूख जाए तो ही रुई व साफ कपड़े से चेहरे को साफ करें।

11. गर्मियों व बारिश के मौसम में चेहरे को साफ करने व चेहरे में चमक के लिए मुल्तानी मिट्टी का लेप बहुत ही लाभदायक है। मुल्तानी मिट्टी का लेप बनाने के लिए मुल्तानी मिट्टी पाउडर को गुलाब जल के साथ अच्छे से मिलकर उसे चेहरे पर अच्छी तरह एक-समान रूप से लगा लें। इसे लगाने के बाद धूप व पानी में ना जाएँ, 20-25 मिनट में अच्छे से सूख जाने के बाद इसे धीरे-धीरे धो लें और चेहरे को थपथपा-कर सुखा लें। इस तरह करने से मुल्तानी मिट्टी का लेप चेहरे से मुंहासे, झुर्रियाँ, गंदगी और तेल निकालने के लिए एक बहुत ही कारगर उपाय है।

12. मेथी स्वस्थ के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होती है इसमें मौजूद स्फेट, न्यूक्लियो अलब्यूमिन और लेसिथिन जैसे कई पोषक तत्व शरीर के लिए काफी लाभदायक होती हैं। चेहरे से ब्लैक स्पॉट्स को दूर करने के लिए मेथी के पत्तों को बारीक पीसकर चेहरे पर अच्छे से लगाएं और पेस्ट को चेहरे पर सूखने तक लगा रहने दें, फिर चेहरे को ठंडे पानी से अच्छे से धुल लें ऐसा करने से आराम मिलेगा।

13. चेहरे पर ब्लैक हेड्स, मुंहासे, की समस्या होने पर आप टमाटर का उपयोग कर सकते हैं, एक देसी टमाटर को काटकर उसे अपने चेहरे पर धीरे-धीरे लगाएँ, फिर दस मिनट तक रहने दें, ऐसा करने से आपको मुंहासे और ब्लैक हेड्स, से आराम मिलेगा।

14. तुलसी के पत्तों को पीस कर उसमें नींबू का रस बराबर मात्रा में मिलाकर लेप को चेहरे पर लगाने से चेहरा साफ हो जाता है और मुंहासे कुछ ही दिनों में ठीक हो जाते हैं।

Leave a Comment